DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में खुलेंगे फल सब्जी बिक्री केंद्र

किसानों द्वारा उत्पादित फल व सब्जियों के वाजिब दाम मिले, इसी मकसद से राज्य सरकार ने किसान बाजार विकसित करने का निर्णय लिया है। इस बाजार में मुख्यत: फल व सब्जियों की बिक्री होगी। इसकी शुरुआत राजधानी व आस-पास के दियारा क्षेत्रों से की जा रही है। राज्य किसान आयोग मॉडल बाजार का स्वरूप तैयार कर रहा है। आयोग के अध्यक्ष श्री रामाधार ने बताया कि एक सप्ताह के अंदर स्वरूप तैयार लिया जाएगा। उन्होंने इसके लिए दानापुर के पास दियारा क्षेत्र का दौरा भी किया। उन्होंने बताया कि किसान दियारा क्षेत्र से सिर पर अथवा साइकिल पर फल व सब्जी शहर में लाकर बेचते हैं। जहां कहीं भी वे बाजार लगाते हैं, उनकी स्थिति दयनीय है। न पीने का पानी और न बारिश से बचने का कोई उपाय। बाजार में स्टोर रूम की व्यवस्था नहीं रहने के कारण किसानों को सारी सब्जियां औने-पौने दाम में अंत में बेचनी पड़ती है।ड्ढr ड्ढr किसान बाजार में ढका हुआ प्लेटफॉर्म, खुला सुखाने का चबूतरा, भंडारीकरण, कोल्ड स्टोरा, पेयजल, मवेशी शेड, टेलीफोन बूथ, बाजार भाव सूचना आदि की पूरी व्यवस्था रहेगी। सरकार की सहमति से किसान बाजार का खांका तैयार किया जा रहा है। राजधानी में भी जहां कहीं बजार लगते हैं, उनकी स्थिति काफी बुरी है। उन्होंने बताया कि बिहार में कृषि में उपयोग होने वाले भूमि में मात्र दस फीसदी हिस्से पर फल व सब्जी उपजती है, लेकिन इससे आमदनी 50 फीसदी होती है। बाजार के अभाव में किसानों का 30-40 फीसदी उपज नष्ट हो जाता है। किसानों को अच्छी कीमत दिलाने के मकसद से ही किसान बाजार स्थापित किए जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहर में खुलेंगे फल सब्जी बिक्री केंद्र