DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेपी की संपूर्ण क्रांति आज भी अधूरी

सम्पूर्ण क्रांति दिवस के अवसर पर राजधानी में गुरुवार को कई कार्यक्रम आयोजित हुए। लोकतांत्रिक समता दल द्वारा आयकर गोलंबर पर विशाल धरना का आयोजन किया गया। धरना की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष पी.के. सिन्हा ने किया। इस मौके पर नीलिमा सिन्हा, नाथ सिंह, नरश कुमार सिन्हा, कृष्ण बिहारी, अरविंद विद्रोही, शिवप्रकाश राय, अश्विनी कुमार एवं जगदीश मंडल सहित कई लोग उपस्थित थे। जनता पार्टी ने क्रांति दिवस को परिवर्तन दिवस के रूप में मनाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुरली मनोहर सिंह ने की। श्री सिंह ने कहा कि जे.पी. का संपूर्ण क्रांति आज भी अधूरा है क्योंकि आज भी जेपी के अनुयायी अपने स्वार्थ में लिप्त होकर उनके आदर्शो का गला घोटने का काम कर रहे हैं। इस अवसर पर रामईश्वर प्रसाद, शशिकांत यादव, रामबाबू ठाकुर, मो. नौसाद, डा. मनोहर कुमार बंका एवं राजीव रांन सिन्हा कई लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए।ड्ढr ड्ढr छात्र जदयू द्वारा एक सेमिनार का आयोजन किया गया। इस मौके पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री दशई चौधरी ने कहा कि हम सभी अपने इतिहास को भूलते जा रहे हैं। यही कारण है कि आज की युवा पीढ़ी अंधी गलियों में भटक रही है। महासचिव राघवेन्द्र सिंह ने कहा कि लोगों केा फिर से हर जूर्म के खिलाफ जंग का अभियान चलाना होगा। इस मौके पर द्वारिका प्रसाद, संजय कुमार सिंह, मालती सिंह, राकेश कुमार सचिव एवं युगल यादव सहित कई लोग उपस्थित थे। 1आंदोलनकारी मोर्चा के तत्वावधान क्रांति दिवस मनाया गया। इस मौके पर पी. कुमारी, कार्तिक प्रसाद, शशिशेखर पटेल एवं धीरन्द्र कुशवाहा सहित कई लोग उपस्थित थे। सम्पूर्ण क्रांति मंच द्वारा धरना का आयोजन किया गया। धरना में संगठन ने सरकार को 16 सूत्री मांगों के मांग पत्र सौपा। इस मौके पर रघुपति, अरविंद, मिथिलेश कुमार सिंह, विद्याभूषण सिंह एवं त्रिलोकी नाथ पाण्डेय सहित कई लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जेपी की संपूर्ण क्रांति आज भी अधूरी