DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इवानोविच बनीं विश्व नंबर वन

एना इवानोविच महिला टेनिस संघ की अगले सोमवार को जारी होने वाली रैंकिंग में विश्व की चोटी की खिलाड़ी बन जाएंगी और वह इस मुकाम तक पहुंचने वाली पहली सर्बियाई होंगी। बीस साल की इवानोविच ने अपनी हमवतन एलेना यानकोविच को हरा कर गुरुवार को यहां फ्रेंच ओपन के फाइनल में जगह बना ली। इसके साथ ही वह रूस की मारिया शारापोवा को पीछे छोड़ विश्व की नंबर एक खिलाड़ी बन गईं। इवानोविच रोलां गैरो के फाइनल में शनिवार को रूस की दिनारा सफीना के खिलाफ उतरेंगी। उन्होंने कहा कि चोटी पर पहुंचना मेरे लिए एक खूबसूरत सपने के सच होने जैसा है। ऑस्ट्रेलियन ओपन की रनरअप इवानोविच ने कहा कि मेरे लिए यह हैरान करने वाली खबर है। खेल में डूबे रहने की वजह से मैं इस ओर सोच नहीं पाई थी। मुझे अपनी इस उपलब्धि पर गर्व है। सोमवार को इसकी आधिकारिक घोषणा होने के बाद मैं खूब जश्न मनाऊंगी। विश्व की नंबर एक महिला खिलाड़ी बनने के लिए इवानोविच, यानकोविच, शारापोवा और रूस की स्वेतलाना कुजनेत्सोवा के बीच होड़ थी। लेकिन बाकी तीन खिलाड़ियों के फाइनल से पहले ही फ्रेंच ओपन से बाहर हो जाने के बाद इवानोविच ने बाजी मार ली। जस्टिन हेना के पिछले माह रिटायर होने के बाद शारापोवा शिखर पर पहुंच गई थीं। लेकिन इस दफा वह चोटी पर सिर्फ तीन हफ्ते रह सकीं और इवानोविच ने उन्हें नीचे धकेल दिया। वर्ष 10 के दशक में महिला टेनिस संघ की रैंकिंग प्रणाली शुरू होने के बाद चोटी पर पहुंचने वाली इवानोविच 17वीं खिलाड़ी हैं। संघ के टूर्नामेंट प्रमुख लैरी स्कॉट ने कहा कि पिछले कुछ बरसों में सर्बियाई टेनिस ने नाटकीय ढंग से तरक्की की है। अगले सोमवार को वह एक नई ऊंचाई तक पहुंच जाएगा। उन्होंने कहा कि एना बेहतरीन खिलाड़ी और इंसान हैं। वह कमसिन हैं और उनके खेल में सुधार की अभी बहुत गुंजाइश है। उन्होंने बरसों तक जो कड़ी मेहनत की है उसका नतीजा अब सामने आ रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इवानोविच बनीं विश्व नंबर वन