DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाउंसर : डाक्टरी परीक्षा (चाूनियर सेक्शन)

बाउंसर : डाक्टरी परीक्षा (ाूनियर सेक्शन) नोट - ये प्रश्नपत्र उन भावी जूनियर डाक्टरों के लिए है, जो डाक्टरी की डिग्री मरीाों को मोक्ष प्रदान करने के लिए लेना चाहते हैं। सभी सवालों के जवाब देने जरूरी हैं।ड्ढr ड्ढr खंड (क)ड्ढr (1) कुछ डाक्टरों को दूसरा शैतान कहने में क्या- क्या संवैधानिक दिक्कतें हैं?ड्ढr (2) स्टेथस्कोप, चाकू, छुरी आदि उपकरणों के साथ कट्टा- पिस्तौल- बम को भी आपरशन थिएटर में क्यों नहीं ले जाया जा सकता?ड्ढr (3) ज्यादा हंगामा करने वाले मरीाों को बेहोशी के इंोक्शन के साथ पोटेशियम साइनाइड देने से होने वाले साइड इफेक्टों के नाम बताएं?ड्ढr (4) डाक्टर के नाम से पहले ‘जूनियर’ लग जाने के बाद दफा 302 करने पर कौन- कौन सी सुविधाएं मिल जाती हैं?ड्ढr ड्ढr खंड (ख)ड्ढr (1)मेडिकल कालेज के हास्टलों के कुछ कमरों में मिसाइल और राकेट लांचर का संग्रह करने के लिए इनमें से किस मंत्रालय से स्वीकृति की आवश्यकता होती है- वित्त, रक्षा, गृह या स्वास्थ्य?ड्ढr (2)अस्पताल की इमरोंसी में आने वाले मरीाों का डेथ सर्टिफिकेट पहले ही बनाकर क्यों नहीं दिया जा सकता?ड्ढr (3)पोस्टमार्टम रिपोर्ट मरने के बाद ही क्यों बनाई जाती है? सोदाहरण उल्लेख करं।ड्ढr (4)मरीा के साथ उसके परिानों का भी अस्पताल आना कहां तक उचित है? डाक्टरों के साथ तो नहीं आते। खंड (ग)ड्ढr (1)टिप्पणी लिखें :- खूबसूरत नर्स, बदतमीज वार्ड ब्वाय, स्ट्रेचर, इमरोंसी में हनीमूनड्ढr (2)हार्ट अटैक के मरीा के पैर पर प्लास्टर चढ़ा देने से कौन सा इंफेक्शन होता है?ड्ढr (3)ाानवर अपना इलाज करवाने खुद डाक्टरों के पास क्यों नहीं आते? उनके साथ मालिक का भी आना क्यों जरूरी है?ड्ढr (4)किसी धनी व्यक्ति के शव में पेसमेकर, ग्लूकोज, आक्सीजन, डायलिसिस का प्रयोग अधिकतम कितने दिनों तक किया जा सकता है?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाउंसर