DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीण सड़कों के किनारे हर्बल पेड़ लगेंगे

ग्रामीण सड़कों के किनार अब इलाज और भोजन दोनों की व्यवस्था होगी। सड़कों के किनार हर्बल पेड़ भी लगेंगे और मछलीपालन की भी व्यवस्था होगी। राज्य सरकार ने सड़कों के निर्माण के साथ-साथ अब पर्यावरण को विकसित करने और सामाजिक भागीदारी को सुनिश्चित करने की योजना पर काम शुरू कर दिया है। सड़कों के किनार विशेष प्रजाति के हर्बल पौधे लगेंगे। इसके लिए योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि योग पीठ से भी सहयोग लिया जाएगा। पौधों को सड़कों के किनार ढलानों पर लगाया जाएगा। साथ ही बांस के पेड़ भी लगाए जाएंगे।ड्ढr ड्ढr प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनने वाली सड़कों के किनार गड्ढों को नहर और तालाब के रूप में विकसित किया जाएगा। वहां मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा। इसकी व्यवस्था के लिए ग्रामीण कार्य विभाग ने कई एजेंसियों से संपर्क स्थापित करना शुरू भी कर दिया है। खासबात यह होगी कि इन सभी गतिविधियों में स्वयं सहायता सहकारी समितियों की मदद ली जाएंगी जिनमें स्थानीय लोगों की भागीदारी होगी। विशेषकर महादलित, दलित, अन्य पिछड़ी जातियां, अल्पसंख्यक एवं बीपीएल के नीचे के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी। विभाग के अनुसार योजना को साकार करने के लिए राष्ट्रीय बांस मिशन, राष्ट्रीय बागवानी मिशन, राष्ट्रीय मधुमक्खी मिशन, ए.एन.सिन्हा इंस्टीच्यूट ऑफ सोशल साइंसेज, जेवियर इंस्टीच्यूट ऑफ सोशल साइंसेज रांची, जेवियर इंस्टीच्यूट ऑफ सोशल रिसर्च पटना तथा पतंजलि योग पीठ हरिद्वार से संपर्क किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ग्रामीण सड़कों के किनारे हर्बल पेड़ लगेंगे