अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्या हत्याकांड आशिक ने किया आत्मसमर्पण

अपनी प्रेमिका तथा मंगेतर को मौत की नींद सुलाने वाले आशिक नितिन आकाश ने शुक्रवार को आखिरकार एसएसपी अमित कुमार के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। विद्या हत्याकांड में पुलिस को उसकी पिछले कई दिनों से तलाश थी। बहरहाल नीतीन आकाश के समर्पण करने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है। वह गुरुवार को ही वैष्णो देवी से लौट कर राजधानी पहुंचा था। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार पुलिसिया दबिश के चलते ही उसने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया। हालांकि सूत्रों का कहना है कि उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस को काफी जद्दोजहद करनी पड़ी।ड्ढr ड्ढr शुक्रवार को उसे पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। पूछताछ के दौरान पुलिस के समक्ष उसने कई राज उगले हैं पर जांच प्रभावित न हो इसी वजह से पुलिस कुछ बताने के मूड में नहीं है। एसएसपी ने इस बात की पुष्टि की है कि नितिन ने उनके सामने समर्पण किया है। इस मामले में पुलिस ने नितिन के पिता व वायुसेना के हवलदार मोहन सिंह (करोड़ीचक, फुलवारीशरीफ) को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गौरतलब है कि 28 अप्रैल को पीएमसीएच में मिली अज्ञात युवती (विद्या) की लाश को पटना पुलिस ने बरामद किया था। बताया जाता है कि करोड़ीचक गांव में जहर देने के बाद विद्या के शव को मोहन सिंह 28 अप्रैल की शाम पीएमसीएच इमरजेंसी में रख कर भाग निकला था। वहीं स्थानीय थाने को उसने अज्ञात लाश मिलने की सूचना दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विद्या हत्याकांड आशिक ने किया आत्मसमर्पण