अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुश की हत्या की साजिश मामले पर कोर्ट की मुहर

अमेरिका की एक अपीलीय अदालत ने एक अमेरिकी नागरिक को राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश की हत्या की साजिश रचने और अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन अल कायदा के साथ संबंध रखने का दोषी ठहराए जाने के निचली अदालत के फैसले को सही करार दिया है। वर्जीनिया में रिचमंड की अपीलीय अदालत ने अहमद अबू अली की इस दलील को खारिज कर दिया कि सऊदी अरब की सरकार ने उसे अपना अपराध कबूल करने के लिए यातना दी थी। अदालत ने अबू अली को मिली 30 वर्ष की सजा को बहुत कम बताते हुए मामले को दोबारा सजा के लिए वापस भेज दिया। तीन सदस्यीय पैनल ने शुक्रवार को अपने फैसले में कहा कि हम इस बात से संतुष्ट हैं कि इस मामले में अबू अली के साथ पूरा न्याय हुआ और न्याय प्रक्रिया ने संविधान सम्मत अपने कर्तव्य का निर्वहन किया। अबू अली के वकीलों ने दलील दी कि सऊदी अरब में उनके मुवक्िकल को अपना अपराध स्वीकार करने के लिए यातनाएं दी गई लेकिन अदालत ने इसे खारिज कर दिया। टेक्सास में जन्मे और वर्जीनिया के फाल्स चर्च इलाके में रहने वाले अबू अली को जून 2003 में सऊदी अरब में गिरफ्तार किया गया था। वह वहां के एक विश्वविद्यालय में पढ़ाई कर रहा था। उसे 20 महीने तक सऊदी अरब में हिरासत में रखने के बाद अमेरिका लाया गया। अबू अली ने सऊदी अरब में कबूलनामे पर हस्ताक्षर किए और बुश के खिलाफ साजिश रचने और अल कायदा के साथ संबंध रखने की बात स्वीकार की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बुश की हत्या की साजिश मामले पर कोर्ट की मुहर