अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टीवीएनएल-पीटीपीएस की दो इकाई से उत्पादन ठप

सात जून को सुबह 10.30 बजे टीवीएनएल से उत्पादन ठप हो गया। वहीं पीटीपीएस की एक और छह नंबर इकाई छह जून से बंद है। उत्पादन बंद होते ही राज्य में बिजल संकट गहरा गयी है। सेंट्रल सेक्टर से 311 मेगावाट बिजली लेने के बावजूद दिन में एक सौ और रात में करीब दो सौ मेगावाट बिजली की कमी हो गयी है। टीवीएनएल से उत्पादन चालू होने में तीन से चार दिन का समय लगने की संभावना है।ड्ढr टीवीएनएल के एमडी विक्रमा राम के अनुसार सात जून को टय़ूब लीकेा होने के कारण उत्पादन बंद हो गया। दो नंबर इकाई से तब 180से 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा था, वहीं पीटीपीएस की एक नंबर से 42 और छह नंबर इकाई से 35 मेगावाट बिजली उत्पादन हो रहा था।ड्ढr दोनो ही इकाई टय़ूब लिकेा होने से बंद हुए हैं। दोनो इकाइयों को चालू करने के लिए एक दो दिन का समय लगने की संभावना है। डीवीसी से सिर्फ 25 मेगावाट बिजली मिल रहा है।ड्ढr दिन में बिजली की मांग 550 मेगावाट और शाम से देर रात तक 750 मेगावाट के आस-पास रहती है। बिजली की कमी के कारण राजधानी सहित पूर राज्य में लोड शेडिंग हो रही है। आस-पास के इलाकों में चार से पांच घंटे तक लोड शेडिंग हो रही है।ड्ढr हवा चलते ही ब्रेक डाउन, बिजली गुलड्ढr सात जून को तेज हवा के साथ बारिश शुरू होते ही राजधानी में 33 केवी लाइन ब्रेक डाउन हो गया। इसके कारण रातू रोड, कांके रोड, राजभवन, रातू और कांके आदि इलाकों में करीब दो घंटे तक बिजली आपूर्ति ठप रही। 33 केवी लाइन ब्रेक डाउन होते ही राजभवन, कांके, हरमू, आइआइटी विद्युत सब स्टेशन की बिजली आपूर्ति ठप हो गयी थी। अपर बाजार, रातू रोड और हरमू आदि इलाके में सुबह से ही बिजली गायब रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टीवीएनएल-पीटीपीएस की दो इकाई से उत्पादन ठप