DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाकपा माले के बंद का राजधानी में असर नहीं

पेट्रोलियम पदार्थो की मूल्यवृद्धि के विरोध में भाकपा माले के सात जून के झारखंड बंद का राजधानी रांची में असर नहीं पड़ा। सब कुछ आम दिन की तरह ही सामान्य रहा। हालांकि सुरक्षा के मद्देनजर निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी थी। जगह-ागह पुलिस बल की तैनाती की गयी थी।ड्ढr माले कार्यकर्ता जुलूस के रूप में कार्यालय कचहरी होते हुए सैनिक बाजार की ओर बढ़ रहे थे। इस दौरान सरकार के विरुद्ध नारबाजी और मूल्य वृद्धि वापस लेने की मांग की जा रही थी। मेन रोड गुरुद्वारा से कुछ आगे पहुंचने पर पुलिस ने कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। इसका नेतृत्व राज्य सचिव शुभेंदु सेन, राजाराम, आशीष भौमिक, सिगनी खलखो, सुदामा खलखो, कौशल कुमार यादव, साधु शरण राम कर रहे थे।ड्ढr राज्य सचिव शुभेंदु सेन ने कहा कि पूर राज्य से बंद के समर्थन में सकारात्मक रिपोर्ट आयी है। यह संघर्ष की शुरुआत है। आनेवाले चुनाव में कांग्रेस को इसका खामियाजा भुगतना होगा। सड़क घेर कर चलने के कारण कुछ देर के लिए गाड़ियों का लंबी लाइन लग गयी थी। जुलूस को देखकर कुछ दुकानें बंद होने लगीं थीं। हालांकि जुलूस के आगे बढ़ जाने के तुरंत बाद उसे दुकानदार खोल भी रहे थे। गिरफ्तार किये गये लोगों को कुछ देर बाद रिहा कर दिया गया। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाकपा माले के बंद का राजधानी में असर नहीं