अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैशाखी पर सजा विशेष दीवान

गुरुनानक स्कूल में होगा भजन-कीर्तन और लंगर खालसा पंथ के 310वें सृजन दिवस वैसाखी गुरुपर्व की पूर्व संध्या पर 13 अप्रैल को मेन रड स्थित गुरुद्वारा में विशेष दिवान सजाया गया। इसमें संदीप सिंह रूपाली ने कीर्तन गायन किया। कथावाचक करनैल सिंह गरीब ने गुरु गोविंद सिंह, गुरुनाननक देवजी और गुरुगुण साहबजी के बार विस्तार जानकारी दी। प्रसिद्ध रागी जत्था भाई चरणजीत सिंह देहरादून ने कीर्तन गायन कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।ड्ढr सुबह में भी गुरुद्वारा में ज्ञानी करनेल सिंह गरीब द्वारा गुरमत विचार आयोजन किया गया। कार्यक्रम का संचालन महासचिव परमजीत सिंह चाना ने किया। इसके बाद लंगर का आयोजन हुआ।ड्ढr चाना ने बताया कि 14 अप्रैल को श्रद्धा और उल्लास के साथ वैसाखी पर्व मनाया जायेगा।ड्ढr इस अवसर पर छह अप्रैल से रखे गये सहा पाठ की समाप्ति सुबह नौ बजे होगी। इसके मुख्य समारोह का आयोजन सुबह दस बजे से गुरुनानक स्कूल के हॉल में होगा। इसमें पंजाब से आये प्रसिद्ध रागी जत्था भाई चरणजीत सिंह देहरादूनवाले, प्रसिद्ध कथावाचक करनैल सिंह गरीब, भाई संदीप सिंह रूपाली भाग लेंगे। दोपहर 12.30 बजे से लंगर का आयोजन होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वैशाखी पर सजा विशेष दीवान