अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दोनों हाथ उलीचिये यही विधायक काम

झारखंड के मंत्री ठाठ-बाट से रहें, तेल पर लाखों फूंके और विधायक पीछे रह जायें, भला यह कैसे संभव है। सरकारी खजाने से तेल फूंकने में विधायकों का अंदाज कुछ हटकर है। हर माननीय को वेतन-सुविधा के मद में तकरीबन साढ़े तीन लाख सालाना, हवाई, रल और कार पर चलने के लिए तीन लाख रुपये सालाना और टीए-डीए के मद में औसतन दो लाख रुपये मिलते हैं। फिर पीए, चपरासी, कंप्यूटर, लैपटॉप की सुविधाएं अलग से हैं। टेलीफोन मद में एक लाख मिलता है। सब जोड़ दिया जाये हर विधायक पर औसतन 15 लाख खर्च होता है। सुविधा लेने के मामले में माननीय किसी से समझौता नहीं करते हैं। कार से यात्रा के लिए रलवे कूपन भी भंजाते हैं और 10 रुपये फी किमी टीए भी चार्ज कर लेते हैं। है न दोहरा लाभ।ड्ढr अब जरा विधायकों को मिलनेवाली यात्रा सुविधा पर गौर करं, तो आपको दिखेगा कि यहां एक टिकट पर तीन खेला हो रहा है। हर विधायक ईंधन के नाम पर 75 हाार सालाना तो खर्चते ही हैं, ऊपर से 10 रुपये फी किमी के हिसाब से टीए भी लेते हैं। बस, उनके नाम अपनी या सरकारी गाड़ी आवंटित होनी चाहिए। हर विधायक को रल, हवाई यात्रा के अलावा ईंधन के खर्च के नाम पर तीन लाख का सालाना कूपन मिलता है। इसमें से डेढ़ लाख हवाई यात्रा, 75 हाार ट्रेन यात्रा और 75 हाार रुपये निजी वाहन पर डीाल-पेट्रोल पर खर्च करते हैं। झारखंड में रल कूपन का विचित्र उपयोग है। कूपन के नाम पर जो पैसा खर्च होता है, विधायक उसे हवाई यात्रा और पेट्रोल -डीाल पर खर्च कर उसे रिइंबर्समेंट करा लेते हैं। क्योंकि रलवे कूपन से हवाई यात्रा और पेट्रोल-डीाल तो नहीं खरीदे जा सकते हैं। राज्य में 82 विधायकों में 48 लालबत्तीधारी हैं। मंत्री, सचेतकों को छोड़ दें, तो विधानसभा की 31 स्थायी कमेटियों के 28 सभापति हैं। इनमें 14 सत्तारूढ़ और 14 विपक्ष के हैं। सबको राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त है। दिलचस्प यह कि एक विधायक जब विधानसभा समिति का सभापति बन जाता हैं, तो विधायक के साथ-साथ सभापति की सुविधा भी भोगता हैं।ड्ढr विधायक को एक पीए मिलता है। सभापति को एक निजी सहायक और एक अनुसेवक का प्रावधान है। सभापति दोनों सुविधाएं साथ-साथ उठाते हैं। हर विधायक को लैपटॉप मिलता है और सभापति को एक-एक पीसी। सभापति दोनों का लाभ ले रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दोनों हाथ उलीचिये यही विधायक काम