अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जुंटा शासन ने सू को लेकर लांघी सारी मर्यादाएं

म्यांमार के सैन्य शासकों ने सदाचार और शिष्टाचार की सभी मर्यादाआें को लांघते हुए कहा है कि लोकतंत्र समर्थक आंग सांग सू की को देश की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए कोड़े से पीटा जाना चाहिए। सरकारी समाचार पत्र में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सू की को विदेशों से पैसा मिल रहा है और वह देश की सुरक्षा के लिए अभी भी खतरा बनी हुई है। अखबार में कहा गया है कि सू की के अपराध को देखते हुए उन्हें ऐसे पीटा जाना चाहिए जैसा कि एक उदंड बच्चे को पीटा जाता है। अखबार ने सू की नजरबंदी को उचित ठहराते हुए कहा है कि उन्हें यह सजा इसलिए दी गई है ताकि वह फिर से ऐसी जुर्रत नहीं कर सके। हालांकि अखबार ने उन कानूनों को अपनी रिपोर्ट में उल्लेख किया है जिसके तहत सू की को नजरबंद किया गया है लेकिन अखबार ने यह नहीं बताया कि सू की को कभी नजरबंदी से रिहा किया जाएगा अथवा नहीं। सू की पिछले छह साल से अपने घर में नजरबंद हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जुंटा शासन ने सू को लेकर लांघी सारी मर्यादाएं