DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

9वीं फेल अब नहीं हो पाएँगे 10वीं पास

नौवीं फेल को 10वीं कक्षा पास कराने वालों की दुकानें अब बंद होनेोा रही हैं। राय सरकार नए सत्र से सूबे के सभी स्कूलों में कंप्यूटराइड फार्म की व्यवस्था लागू करनेोा रही है। नए पांीकरण फार्म ओएमआर शीट पर भरोाएँगे। छात्र को एक नम्बर आवंटित होगा। इसी नम्बर पर उसे बोर्ड में प्रवेश पत्र मिलेगा। परीक्षा फार्म से लेकर छात्र का परीक्षा केन्द्र आवंटन भी इसी नम्बर से होगा। नए फार्म के आने से अब वही छात्र परीक्षा दे पाएँगेोिन्होंने कक्षाओं में वास्तवित रूप से पढ़ाई की है।ड्ढr उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद बोर्ड परीक्षा के लिए बड़ा बदलाव करनेोा रहा है। अब तक वीं कक्षा के छात्र को परम्परागत तरीके से फार्म भरना होता था। पेन से भरने वाले इस फार्म में छात्र का नाम, पिता का नाम, विषय,ोन्म तिथि आदि सूचनाएँ देनी होती थीं। इस फार्म में छात्र की फोटो भी लगती थी। 20 रु. पांीकरण शुल्क देकर छात्र को अपना फार्म सितम्बर तकोमा करना होता था। हर साल एक अक्टूबर तक स्कूलों को यह सभी फार्म डीआईओएस के दफ्तर मेंोमा कर देने होते थे लेकिन व्यवहार में ऐसा नहीं होता था। शिक्षा माफिया पांीकरण फार्म नौ माह बाद यानी अगले सालोुलाई तकोमा करते थे। इस दौरान अगर कोई छात्र किसी सरकारी स्कूल में नौवीं कक्षा में फेल भी हो गया तो वित्त विहीन स्कूल उससे यादा पैसा लेकर वीं पास की फर्ाी मार्कशीट लगाकर उसका परीक्षा फार्म अगस्त में बोर्ड मेंोमा करवा देते थे। इस गोरखधंधे में शिक्षा माफिया करोड़ों की कमाई करते थे। इस धंधे में बोर्ड के कई अधिकारी भी शामिल रहते।ोो शिक्षा माफिया को न केवल फार्म मुहैया करा देते थे बल्कि पांीकरण फार्मोमा करने की तारीखें भी बढ़ाते रहते लेकिन अब यह सब खत्म होगा। नौवीं कक्षा में छात्रों को कंप्यूटराइड पांीकरण फार्म मिलेगा। इस ओएमआर फार्म में छात्र को पेंसिल से काले गोले बनाने होंगे। फोटो भी कंप्यूटर से स्कैन होगी ताकि उसे बदला नोा सके। परीक्षा फार्म भी इसी पांीकरण फार्म का हिस्सा होगा। छात्र को परिचय पत्र भी उसके पांीकरण नम्बर से मिलेगा। एक बार भरे गए फार्म में यूपी बोर्ड के पास छात्र की पूरी कुंडली होगी। 10वीं की परीक्षा वही छात्र दे पाएगाोिसका कंप्यूटर में रिकॉर्ड होगा। इस बार में पूछेोाने पर माध्यमिक शिक्षा प्रमुख सचिव अरुण कुमार मिश्र ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि यह नई व्यवस्था नए सत्र से फिलहाल कक्षा े लिए शुरू कीोा रही है। कक्षा 11 के बार में आगे विचार कियाोाएगा। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 9वीं फेल अब नहीं हो पाएँगे 10वीं पास