DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कृषि विभाग काहोगा पुनर्गठन

राज्य सरकार कृषि विभाग का पुनर्गठन करने जा रही है। पुनर्गठन के बाद राज्य में एकीकृत कृषि विभाग का स्वरूप दिखने लगेगा और तब वर्षों से उपेक्षित रहे इस विभाग का कैनवास भी बड़ा हो जायेगा। विभाग में अब कृषि विकास आयुक्त का पद होगा। यह पद मुख्य सचिव के समकक्ष होगा।विभाग में इसपर सहमति बन गई है और इसका प्रस्ताव तैयार कर सरकार के समक्ष स्वीकृति के लिए भेज दिया गया है।ड्ढr ड्ढr प्रस्ताव के अनुसार कृषि विकास आयुक्त कृषि, पशु, मत्स्य संसाधन और सहकारिता विभाग के सचिव प्रधान सचिव के नियंत्री पदाधिकारी होंगे। उनकी अध्यक्षता में कृषि, पशु, मत्स्य संसाधन और सहकारिता विभाग की योजनाओं की स्वीकृति के लिए एक प्राधिकृत समिति होगी। इस समिति के पास वे शक्ितयां भी होंगी जो योजना प्राधिकृत समिति को प्राप्त हैँ। प्रधिकृत समिति में योजना एवं विकास विभाग तथा वित्त विभाग के सचिवप्रधान सचिव शामिल होंगे। कृषि विकास आयुक्त ही राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लिए गठित राज्यस्तरीय स्वीकृति समिति के अध्यक्ष भी होंगे। वे कृषि, पशु, मत्स्य संसाधन और सहकारिता विभाग के लिए गठित समिति के अध्यक्ष भी होंगे। यह वह समिति है जिसमें स्वीकृति अनुश्रवण के लिए वतर्मान में मुख्य सचिव आयुक्त अध्यक्ष हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि विकास के लिए बने रोड मैप को लागू करते वक्त ही इस फामरूले पर विचार करना शुरू कर दिया था। रोड मैप के प्रारूप के प्रकाशन के दिन भी उन्होंने कहा था कि कृषि विकास सिर्फ खेती पर बल देने से नहीं हो सकता। इसके लिए कृषि से जुड़े सभी विभागों की योजनाओं को भी धरातल पर उतारना होगा। मुख्यमंत्री के इसी सोच के साथ विभाग ने नया प्रस्ताव तैयार किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कृषि विभाग काहोगा पुनर्गठन