अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुख्यात अशर्फी ने डाले हथियार

ुख्यात अशर्फी यादव उर्फ पंडित यादव ने गुरुवार को पुलिस कप्तान विकास वैभव के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। एसपी कार्यालय में आयोजित एक सादे समारोह में एक रगुलर बंदूक व करीब एक दर्जन कारतूसों के साथ आत्मसमर्पण करते हुए अशर्फी ने कहा कि अब उसे समाज की मुख्यधारा में शामिल होकर जीना है। पचास हाार रुपये के इस इनामी अपराधी के आत्मसमर्पण के बाद एसपी विकास वैभव ने कहा कि सरकार की पुनर्वास योजना का ही प्रतिफल है कि अपराधियों की सोच में व्यापक बदलाव आया है। करीब चार दर्जन से अधिक मामलों में वांछित अशर्फी का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है। वर्ष 1से आपराधिक कांडों को अंजाम देने में सक्रिय अशर्फी मूलत: ठकराहां थाने के परसौना गांव का निवासी है पर नेपाल में रह रहा था।ड्ढr ड्ढr शिक्षा विभाग के सात कर्मी बर्खास्तड्ढr छपरा (सं.सू.)। मानव संसाधन विकास विभाग के निदेशक व मुख्य सचिव ने सारण प्रमंडल के शिक्षा विभाग में कार्यरत सात कर्मियों को बर्खास्त कर दिया है। इन कर्मियों में छपरा में पदसथापित सुनील कुमार सिंह, सीवान में पदस्थापित सुरन्द्र कुमार सिंह, गोपालगंज में पदस्थापित राजेश कुमार, विजय कुमार, अनिल कुमार सिंह के अलावा आदेशपाल विनोद कुमार श्रीवास्तव और महेन्द्र यादव शामिल हैं। पटना हाईकोर्ट के निर्देश के आलोक में गठित त्रिस्तरीय जांच टीम की रिपोर्ट में अवैध नियुक्ित पाए जाने के बाद निदेशक ने यह कार्रवाई की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कुख्यात अशर्फी ने डाले हथियार