अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्दनीबाग थाने का घेराव-प्रदर्शन

पुलिस पर अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए भाकपा (माले) के नेतृत्व में लोगों ने गुरुवार की सुबह गर्दनीबाग थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया। आक्रोशित भीड़ जबरन वूसली करने वाले पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करने की मांग के अलावा बाजार समिति की रसीद चेक करने के बहाने अवैध वसूली का आरोप लगा रही थी। बीते बुधवार को भी एक ट्रक व चालक को पकड़ कर एक हजार नजराना लेने का आरोप लोगों ने पुलिस पर लगाया।ड्ढr ड्ढr मौके पर पहुंचे सचिवालय डीएसपी समेत अन्य अधिकारियों ने लोगों को समझा-बुझाकर उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। इधर थानाध्यक्ष शिवाजी प्रसाद ने बताया कि जिस ट्रक के पकड़े जाने को लेकर बखेड़ा खड़ा किया गया था वह बुधवार को 10 बजे दिन ‘नो इंट्री’ में पकड़ा गया था। कुछ समय बाद वीवीआईपी मूवमेंट मूवमेंट होने वाला था। मौके पर ही छानबीन के बाद पुलिस अधिकारी ने ट्रक और चालक को छोड़ दिया था। वैसे आरोपों के बाबत छानबीन की जा रही है। इधर माले स्थानीय कमेटी के सचिव मुर्तजा अली ने एक बयान जारी कर कहा कि चितकोहरा चावल बाजार के व्यापारियों और किसानों से अवैध वसूली की जाती है। इस पर अविलंब रोक लगाया जाना चाहिये। जू. डाक्टरों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलेड्ढr पटना (हि.प्र.)। बिहार युवा अधिवक्ता समिति ने गुरुवार को पीएमसीएच में मरीाों व उनके परिवार वालों के साथ गुंडागर्दी करने वाले जूनियर डाक्टरों पर चार्जसीट दायर कर स्पीडी ट्रायल चलाने की मांग सरकार और पुलिस प्रशासन से किया है। जूनियर डाक्टरों द्वारा किए जा रहे अमानवीय व्यवहार पर समिति ने 14 जून को आरा सिविल कोर्ट में बैठक करगी। जिसमें राज्य कार्यकारणी के सदस्य शामिल होंगे। समिति ने कहा कि समाज के विरुद्ध किसी भी तरह की अराजकता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यह जानकारी समिति के प्रदेश महामंत्री दिगम्बर कुमार सिंह ने दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गर्दनीबाग थाने का घेराव-प्रदर्शन