DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक नजर

चाईबासा, लोहरदगा और बोकारो के जिला जज बदलेड्ढr रांची। राज्य के कई न्यायिक अधिकारियों और जजों का तबादला किया गया है। इस संबंध में हाइकोर्ट ने अधिसूचना जारी कर दी है। हाइकोर्ट के रािस्ट्रार (स्थापना) एचसी मिश्र को चाईबासा रािस्ट्रार (विजिलेंस) बीबी मंगलमूर्ति को बोकारो और चीफ जस्टिस के पीएस जीके गौतम लोहरदगा के जिला जज बनाये गये हैं, जबकि लोहरदगा के जिला जज एनके श्रीवास्तव इसी पद पर गढ़वा भेजे गये हैं। हाइकोर्ट में पदस्थापित संयुक्त रािस्ट्रार एसके दुबे का तबादला रांची सिविल कोर्ट में किया गया है। संयुक्त रािस्ट्रार कुमार कमल का स्थानांतरण धनबाद फास्ट ट्रैक कोर्ट में किया गया है। चाईबासा के जिला जज अमिताभ कुमार को हाइकोर्ट में रािस्ट्रार (स्थापना) बनाया गया है। आरआरडीए अपीलीय न्यायाधिकरण के अमिताभ कुमार गुप्ता को रािस्ट्रार ( विजिलेंस) बनाया गया है। हाारीबाग के एडीो उमाशंकर प्रसाद सिंह को हाइकोर्ट में संयुक्त रािस्ट्रार बनाया गया है।ड्ढr भागलपुर दंगा पीड़ितों को 30 करोड़ का पैकेाड्ढr नयी दिल्ली। सरकार ने बिहार के भागलपुर में 1साल पहले हुए सांप्रदायिक दंगों से प्रभावित परिवारों के लिए 30 करोड़ रुपये की पुनर्वास योजना को मंजूरी दी है। इन दंगों में 844 व्यक्ित मार गये थे। केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक ने 10 के दंगा पीड़ितों के लिए 2रोड़ रुपये की पुनर्वास योजना को मंजूरी दी। दंगों में मार गये प्रत्येक व्यक्ित के आश्रितों को साढ़े तीन लाख रुपये की सहायता दी जायेगी।ड्ढr तीन जिले में बंद 16 कोड्ढr बोकारो थर्मल। चुडरमांडू घटना के विरोध में भाकपा माओवादी ने 16 जून को बोकारो, गिरिडीह एवं हाारीबाग जिले को बंद करने की घोषणा की है। उत्तरी छोटानागपुर जोनल कमेटी द्वारा जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गयी है।चुडरमांडू में बिष्णुगढ़ पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में संगठन के अजरुन यादव समेत तीन नक्सली मार गये थे। बंद से अस्पताल, दवा दूकान, एंबुलेंस, शिक्षण संस्थान को मुक्त रखा गया है।ड्ढr रारप्पा में खदान धंसी, चार मर रारप्पा। सीसीएल की काली मंदिर से सटी खदान में अवैध खनन के दौरान गुरुवार को खदान धंस गयी। इसमें कम से कम चार लोगों के मरने की खबर है। छह घायल भी हैं।ड्ढr मृतकों में सबकी शिनाख्त हो गयी है। हालांकि मृतकों के परिान शव लेकर भाग गये। पुलिस और सीसीएल के अफसर वहां पहुंचे, तो वहां सिर्फ कुदाल और टोकरी मिली। डोरिंग हुई, मगर शव नहीं मिले। पुलिस घटना की पुष्टि तो करती है, लेकिन मृतकों के बार में ज्यादा नहीं बताती। रामगढ़ डीएसपी संजीव कुमार, सीसीएल पीओ देवाशीष सिन्हा आदि ने मौके का जायजा लिया। जानकारी के अनुसार सुबह 8.30 बजे खदान के ऊपरी हिस्से में लगे पेड़ के साथ बहुत सारी मिट्टी गिर गयी। इससे अवैध खनन कर रहे कई लोग दब गये, अफरा-तफरी मच गयी। तभी परिानों ने दबे शवों को निकाला और लेकर भाग गये। मामले की छानबीन जारी है। संवाददाता सिलीगुड़ी में उतरी सेनाड्ढr सिलीगुड़ी। अलग गोरखालैंड की मांग पर जीजेएम की हिंसा के जवाब में गुरुवार को आमरा बांगाली ने हमले किये और शहर को बंधक बना लिया। स्थिति बिगड़ती देख मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने सेना उतारने का फैसला किया। सीएम ने इस मसले पर 17 जून को सर्वदलीय बैठक बुलायी है।ड्ढr केंद्र ने भी पारा मिलिट्री फोर्स के एक हाार जवानों को बंगाल भेजा है। दार्जिलिंग में जीजेएम की ओर से हुई हिंसा के जवाब में गुरुवार को शहर की स्थिति बिगड़ गयी, जब मोर्चा विरोधी आमरा बांगाली और माकपा कार्यकर्ता भी हिंसा पर आये। हालांकि इससे पहले आमरा बांगाली का कभी नाम नहीं सुना गया। सिलीगुड़ी में कई जगहों पर दार्जिलिंग जानेवाले मालवाही वाहनों को रोका गया, तोड़फोड़ की गयी। पूर क्षेत्र में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। (हिटी)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर