अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई घाटों पर हर-हर गंगे की रही गूंज

सव्रे भवन्तु सुखिन: सव्रे सन्तु निरामया के समवेत स्वर के बीच मां गंगा की स्तुति की गयी। गंगा दशहरा के मौके पर कई गंगा घाटों पर देर शाम मां गंगा की महाआरती की गयी। अहले सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ गंगा तटों पर लगने लगी थी। कलकल करती गंगा की निर्मल धारा में हजारों लोगों ने दीपदान किया। मां गंगा सेवा समिति, खाजेकलां घाट द्वारा मां गंगा की भव्य महाआरती की गयी।ड्ढr ड्ढr चार दिवसीय आयोजन के तहत तट पर गंगा मइया की आकर्षक प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की गयी। गंगा सेवा निधि, श्रीराम मंदिर दशाश्वमेध घाट वाराणसी से आये पंडित पवन शर्मा चंदन पांडे व सिद्ध शक्ित पीठ, छोटी पटनदेवी के आयोजकों ने गंगा आरती सम्पन्न करायी। कार्यक्रम में मौजूद स्वास्थ्य मंत्री नंद किशोर यादव ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अगले वर्ष गंगा दशहरा के मौके पर खाजेकलां घाट नये रूप में दिखेगा। करोड़ों रुपये की लागत से खाजेकलां घाट पर सौंदर्यीकरण कार्य चलाये जा रहे हैं। कार्यक्रम की सफलता के लिए समिति के अजरुन यादव, दीनानाथ जेटली, विजय कुमार सिंह, राजद नेता अनिल यादव, संजीव आर्यन, रतनदीप राय, भगवती मोदी सक्रिय रहे। मारवाड़ी युवा मंच द्वारा श्रद्धालुओं के बीच पेयजल एवं अन्य सुविधा मुहैया करायी गयी। अध्यक्ष संजीव वर्मा, राजाराम शर्मा, विकेश अग्रवाल, कन्हैया सक्रिय थे। इधर गंगा सेवा दल समन्वय समिति,गुरु गोविन्द सिंह घाट द्वारा मां गंगा की महाआरती की गयी। समिति के डा. राजीव गंगौल व राजेश शुक्ला टिल्लू ने कार्यक्रम का संचालन किया। आचार्य विजय कृष्ण मिश्र व राधेश्याम मिश्र मधुर ने वैदिक पद्धति से आरती सम्पन्न करायी।ड्ढr ड्ढr कार्यक्रम का उद्घाटन अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष सरदार चरण सिंह ने किया। मौके पर चीफ वार्डेन एस.एन. श्याम, डा. ध्रुव कुमार, श्याम सुन्दर सराफ, विद्यापति द्विवेदी, वार्ड पार्षद मनोज कुमार मौजूद थे। मां गंगा सेवा समिति द्वारा भद्रघाट पर मां गंगा की भव्य आरती की गयी। जिसमें मिथलेश कुमार, शशि शर्मा, नागेन्द्र यादव, राकेश रंजन सिंह सक्रिय रहे। श्री चित्रगुप्त आदि मंदिर प्रबंधक समिति के बैनर तले नौजर घाट में मां गंगा की विशेष आरती हुई। कार्यक्रम में समिति के अध्यक्ष रवीन्द्र किशोर सिन्हा, कुमार अनुपम, कमलनयन श्रीवास्तव, प्रो. चन्द्रमोहन राय सक्सेना, सतीश राजू सक्रिय थे। दमराही घाट पर गणेश कुमार कुशवाहा, सत्येन्द्र कुमार वर्मा, बलराम बाबा, कपील मिश्र आदि के द्वारा मां गंगा की महाआरती की गयी। हर-हर गंगे की गूंज से कई घाट गुंजायमान रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कई घाटों पर हर-हर गंगे की रही गूंज