DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माले का आंदोलन 16 से

भाकपा माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद, विधायक विनोद सिंह और केंद्रीय कमेटी सदस्य शुभेंदु सेन ने कहा है कि लूट, दमन और माफिया तंत्र के खिलाफ माले संघर्ष तेज करगा। मैथन में हुए राज्य सम्मेलन में बड़े दायर का आंदोलन करने की सहमति बनी है। नेता प्रेस कान्फ्रेंस में बोल रहे थे। लोकतंत्र पर बढ़ते हमले, महंगाई तथा जनता के अन्य सवालों को लेकर 25 जून से एक जुलाई तक माले राजनीतिक मुहिम चलायेगी। गिरिडीह जिले में नरगा कार्यकर्ता कामेश्वर यादव की हत्या के खिलाफ 16 जून से पूर जिले में विरोध दर्ज कराया जायेगा। 25 जून को रैली के जरिये आवाज मुखर की जायेगी। आरोप लगाया कि रारप्पा क्षेत्र में सीसीएल प्रबंधन तथा स्थानीय विधायक सह मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी की सांठगांठ से अवैध उत्खनन और कोयले का कारोबार होता है।ड्ढr 15 जून से झारखंड ग्रामीण मजदूर समिति का सदस्यता अभियान चलाया जायेगा। जुलाई में औद्योगिक मजदूर खासकर असंगठित मजदूरों की लामबंदी की जायेगी। नेताओं ने कहा कि पलामू में सामतंवादी ताकतें राजनीति पर हावी हो रही हैं। माले इस शक्ित को करारा जवाब देगी। यूपीए-कोड़ा सरकार के खिलाफ भी पार्टी अभियान तेज करगी। प्रदेश की मौजूदा राजनीति को किसान- मजदूर का विकल्प बनाने के सभी प्रयास तेज किये जायेंगे। खनिजों को पूंजीपतियों के हाथों सौंपने के तमाम विरोधों के बाद भी सरकार झारखंड की संपदा को बेचने की दिशा में आगे बढ़ रही है। ड्ढr इसका जोरदार विरोध की तैयारी है। नेताओं ने कहा कि दर्जन भर सीटों पर माले मजबूत दावेदारी पेश करगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: माले का आंदोलन 16 से