DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

15 दिन में 100 आश्रितों की नियुक्ित होगी

अगले 15 दिन में मृत 100 कामगारों के आश्रितों की नियुक्ित होगी। फिर डबल इंप्लाइमेंट पर कार्रवाई शुरू होगी। माइनिंग सरदार, ओवर मैन या इलेक्िट्रकल सुपरवाक्षर के वैधानिक प्रमाण पत्र प्राप्त कामगारों को समकक्ष पदों पर पदस्थापित किया जायेगा। रिकार्ड उत्पादन और मुनाफा के एवज में कर्मियों को उपहार दिया जायेगा। यह निर्णय सीसीएल की जेसीसी की सीएमडी आरपी रिटोलिया की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया।ड्ढr हेडक्वार्टर में एक समान ओटी पेमेंट करने पर भी सहमति बनी। इसके लिए एक कमेटी बनायी गयी है। इसमें जीएम पीएंडआइआर, वित्त, मिहिर चौधरी और अशोक यादव हैं। एक माह में यह कमेटी रिपोर्ट देगी। जेसीसी की बैठक में चर्चा कर उसे लागू कर दिया जायेगा। विवादित आश्रित नियुक्ति को निपटाने के लिए भी डीपी की अध्यक्षता में कमेटी बनी। इसमें रमेंद्र कुमार और एमडी विश्वकर्मा हैं। कमेटी प्रावधान के तहत सीसीएल की गाइड लाइन को सरल बनाने पर विचार देगी।ड्ढr रफर केस में फुल मेडिकल रिंबर्समेंट पर भी प्रबंधन ने कमेटी बना दी है। इसमें सीएमएस, गांधीनगर सीएमओ, मिहिर चौधरी, लखनलाल महतो और कन्हैया दुबे हैं। केमटी 15 जुलाई से पहले अपनी रिपोर्ट देगी। फिर उस पर कार्रवाई की जायेगी। वैसे इस मुद्दे पर प्रबंधन सैद्धांतिक रूप से सहमत है। पेयजल और आवास मरम्मत पर प्रबंधन पूरा जोर देगा। डीपी इस मामले की क्षेत्रवार मासिक समीक्षा करंगे। जुलाई के मध्य में जेसीसी की बैठक होगी। इसमें निदेशक आरके साहा, टीके चांद, टीके नाग, राजेंद्र सिंह, बद्री सिंह, गिरिाा शंकर पांडे, रमेंद्र कुमार, अशोक यादव, ललन सिंह, एसएन शर्मा, हरिशंकर सिंह और राघवण रघुनंदन मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 15 दिन में 100 आश्रितों की नियुक्ित होगी