DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमाएं मैनेजमेंट स्किल्स को

आजमाएं मैनेजमेंट स्किल्स को

रजिस्ट्रेशन की अं.ति.
19 मई, 2014
ऑनलाइन परीक्षा की तिथि
25 मई, 2014
रिजल्ट की घोषणा (संभावित) 02 जून, 2014

मैनेजमेंट क्षेत्र में दाखिला कई रास्तों से होकर गुजरता है। इन्हीं में से एक एटमा (एम्स टेस्ट फॉर मैनेजमेंट एडमिशन) भी है। इस प्रवेश परीक्षा का आयोजन एसोसिएशन ऑफ इंडियन मैनेजमेंट स्कूल (एम्स) द्वारा किया जाता है। इसमें सफल होने के पश्चात कई संस्थाओं में एमबीए, पीजीडीएम सरीखे कोर्स में दाखिला मिलता है।  रजिस्ट्रेशन व प्रवेश परीक्षा की प्रक्रिया ऑनलाइन है। परीक्षा देश के करीब 30 सेंटरों पर आयोजित की जाएगी। इसके स्कोर की वैलिडिटी एक साल के लिए होती है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 24 फरवरी से शुरू हो चुका है।

फीस पेमेंट फॉर्म करें डाउनलोड
उम्मीदवारों को सबसे पहले एटमा की वेबसाइट से फीस पेमेंट फॉर्म डाउनलोड करना होता है। इसके पश्चात वेबसाइट पर दिए गए फॉर्म पर उसे अपना नाम-पता व अन्य विवरण भरना होता है। फीस केवल ऑनलाइन बैंक ट्रांसफर/डीडी माध्यम से ही भरी जा सकती है।

स्नातक डिग्री आवश्यक
मैनेजमेंट की इस प्रवेश परीक्षा में वही उम्मीदवार रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं, जिन्होंने किसी भी स्ट्रीम में स्नातक किया हो। इस साल की स्नातक की अंतिम वर्ष की परीक्षा में सम्मिलित होने वाले उम्मीदवारों को भी इसमें बैठने की छूट है, लेकिन उन्हें यह ध्यान रखना होगा कि एक निश्चित समयावधि में उन्हें अपनी अंतिम वर्ष की परीक्षा का अंक पत्र दिखाना होगा। इसमें ऊपरी आयु सीमा का कोई निश्चित प्रावधान नहीं है।

परीक्षा तीन चरणों में
इसमें तीन सेक्शनों (एनालिटिकल रीजनिंग, वर्बल व क्वांटिटेटिव स्किल्स) से 180 प्रश्न पूछे जाते हैं। इन तीनों सेक्शनों को कुल छह एरिया में बांटा गया है यानी प्रत्येक सेक्शन में से दो बार प्रश्न पूछे जाते हैं। इसके लिए उम्मीदवारों को तीन घंटे का समय दिया जाता है। प्रत्येक सेक्शन के लिए 30-30 मिनट का समय निर्धारित है। 
बहुविकल्पीय प्रकार के होंगे प्रश्न
सभी प्रश्न मल्टीपल च्वाइस (बहुविकल्पीय) के होते हैं तथा उनका उत्तर चार विकल्पों के रूप में दिया होता है। उन्हीं में से किसी एक को सही मान कर गोला भरना होता है। ऑनलाइन में भी यही फॉर्मेट होता है।

तार्किक सोच का दायरा बढ़ाएं
एनालिटिकल स्किल्स के प्रश्नों के माध्यम से उम्मीदवारों की तार्किक सोच के दायरे को परखा जाता है। मामूली लगने वाले विषय पर भी प्रश्न पूछे जा सकते हैं। ये पैसेज या सेट्स के रूप में होते हैं। हालांकि इन प्रश्नों का उत्तर देने के लिए किसी विशेष ज्ञान की जरूरत नहीं होती। महज तार्किक सोच के बल पर आप उनमें अच्छा स्कोर कर सकते हैं।

गणित पर फोकस्ड रहें
क्वांटिटेटिव स्किल्स के सेक्शन में प्रॉब्लम सॉल्विंग व डाटा सफिशिएंसी को शामिल किया जाता है। इसमें पूछे जाने वाले प्रश्न अर्थमेटिक्स, एलिमेंट्री अल्जेब्रा तथा ज्योमेट्री के रूप में होते हैं। इनका लेवल दसवीं एवं बारहवीं का होता है। इस सेक्शन को तभी हल किया जा सकता है, जब मैथ्स के फॉर्मूले अच्छी तरह से याद हों।

ग्रामर पर भी अभ्यास करें
वर्बल स्किल्स के अंतर्गत प्रश्न रीडिंग कांप्रीहेंशन, वर्ड मीनिंग, सेंटेंस करेक्शन के अलावा वोकेबुलेरी, सिंटानिम्स आदि पर आधारित होते हैं। इनको हल करने के लिए प्रेक्टिस जरूरी है। ऐसे में उम्मीदवारों के लिए यह जरूरी है कि वे प्रतिदिन इंग्लिश न्यूजपेपर व मैगजीन पढ़ें।

नेगेटिव मार्किंग से सावधान
इस परीक्षा में गलत उत्तर दिए जाने पर नेगेटिव मार्किंग के रूप में अंक काट लिए जाएंगे, इसलिए जिन प्रश्नों को लेकर भ्रम की स्थिति है, उन्हें छोड़ कर दूसरा प्रश्न हल करें। ऑनलाइन आवेदन व अधिक जानकारी के लिए संस्थान की वेबसाइट www.atmaaims.com विजिट करें।

तैयारी के टिप्स
सिलेबस को लेकर कोई कनफ्यूजन न पालें
टाइम मैनेजमेंट सटीक बनाएं
अधिक से अधिक मॉक टेस्ट का अभ्यास करें
फॉर्मूला व मेथड का शार्टकट अपनाएं
नेगेटिव मार्किंग से सावधान रहें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आजमाएं मैनेजमेंट स्किल्स को