DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोच बनने के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं द्रविड़ : गावस्कर

कोच बनने के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं द्रविड़ : गावस्कर

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने राष्ट्रीय टीम के प्रदर्शन में लगातार आ रही गिरावट पर चिंता जताते हुए कोच डंकन फ्लेचर की जगह अब किसी युवा कोच को टीम का हिस्सा बनाने पर जोर दिया है और साथ ही उन्होंने कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ का नाम सुझाया है।
   
गावस्कर ने अगले वर्ष ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेले जाने वाले आईसीसी विश्वकप से पूर्व फ्लेचर की जगह टीम में किसी युवा कोच को शामिल किये जाने की आवश्यकता पर बल दिया है जो भारतीय खिलाड़ियों में अपने जोश और योजनाओं से नई ऊर्जा का संचार कर सके।
       
गावस्कर ने एक टीवी चैनल से कहा कि कोच के लिए सबसे पहला नाम जो मेरे दिमाग में आता है तो वह द्रविड़ हैं। द्रविड़ बेहद सम्मानीय हैं। वह देश के सफल कप्तानों में से एक रहे हैं। हालांकि उन्हें ज्यादा श्रेय नहीं मिला कयोंकि उनका कार्यकाल छोटा रहा था।
  
पूर्व कप्तान ने कहा कि 65 वर्षीय फ्लेचर के नेतृत्व में टीम इंडिया बहुत ही साधारण सी लग रही है और उनमें नए विचारों और नई ऊर्जा की कमी दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेटरों को इस समय युवा कोच की जरूरत है जो टीम में बदलाव कर उसे सही दिशा दिखा सके।
        
पूर्व क्रिकेटर और अब कमेंटेटर की भूमिका निभा रहे गावस्कर ने साथ ही पूर्व कोच गैरी कस्टर्न का जिक्र करते हुए अपने संपादकीय में कहा कि कस्टर्न के नेतृत्व में टीम इंडिया एक अलग ही स्तर पर थी। टीम के सभी खिलाड़ी कस्टर्न का सम्मान करते थे क्योंकि उन्होंने खेल के हर प्रारूप में खिलाड़ियों को मदद की।
       
उन्होंने कहा कि कस्टर्न को मैच से पूर्व अभ्यास की अहमियत पता थी और उनके साथ ट्रेनिंग सत्र बहुत ही स्पर्धात्मक और रोमांचक होता था। लेकिन उनके जाते ही देश में क्रिकेट का स्तर गिरता जा रहा है।
       
पूर्व दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर कस्टर्न वर्ष 2008 से 2011 तक टीम इंडिया के कोच थे। इस दौरान टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन पर पहुंची थी और वर्ष 2011 का विश्वकप भी उसने अपने नाम किया। हालांकि फ्लेचर का नाम भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को खुद कस्टर्न ने ही सुझाया था। 
      
लंबे समय के कोचिंग अनुभव के बावजूद जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेटर टीम इंडिया को सही राह पर नहीं ला सके हैं। दक्षिण अफ्रीका और फिर न्यूजीलैंड में मिली करारी शिकस्त के बाद एशिया कप में टीम के खराब प्रदर्शन के बाद से फ्लेचर को हटाने की मांग लगातार जोर पकड़ने लगी है।
        
गावस्कर ने कहा कि आईसीसी वनडे विश्वकप में अब काफी कम समय ही बचा है और ऐसे में भारतीय प्रशंसक उम्मीद कर रहे हैं कि टीम अपने खिताब का बचाव कर सके। इसलिए हमें एक बेहतर कोच की जरूरत है। हालांकि हो सकता है कि विश्वकप में जब एक वर्ष का ही समय बचा है तो कोच को हटाने का फैसला कुछ लोगों को ठीक न लगे लेकिन यदि ऐसा ही रहा तो हमारे खेल का स्तर और नीचे चला जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोच बनने के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं द्रविड़ : गावस्कर