अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमारे रास्ते पर कई कंपनियां जाएंगी

रैनबैक्सी की बिक्री सेआपके परिवार को जो पैसा मिला है, उसका क्या करेंगे? क्या कोई योजना बनाई है? हम इसे कई तरह के कारोबार में लगाएंगे। परिवार के जो कारोबार हैं उनमें भी लगाएंगे। कितना, कब, कैसे- इन सब पर अभी हमने कोई फैसला नहीं किया है। यह सारा पैसा क्या एक साथ नगद मिलेगा? हां, यह इस साल के आखिर में हमार पास आ जाएगा। आपने जो तरीका अपनाया उसमें क्या जोखिम हैं? कोई बाधा है क्या? इसमें कई अवसर हैं जो धीर-धीर सामने आएंगे। हम क्या कर सकते हैं और किस पर ध्यान दे सकते हैं। इन अवसरों का लाभ उठाने की हम हर मुमकिन कोशिश करंगे। क्या आपको डर था कि इसमें कुछ गड़बड़ी हो सकती है? हमेशा ही कुछ ऐसी चीजें होती हैं, जो गड़बड़ हो सकती हैं। तब बेहतर यही होता है कि आप बैठें, सौदे पर, उन मसलों पर बातचीत करं। और यह सुनिश्चित करं कि आप वही करंगे, जिससे आपको कामयाबी मिलेगी। अब आप कंपनी के हिस्सेदार नहीं रहे। एक प्रबंधक के तौर पर अब आप और आपका नजरिया कितना प्रभावी रहेगा? यह एक स्वतंत्र सूचीबद्ध कंपनी है। मैं इसका अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी हूं। कंपनी को किस तरह की स्वतंत्रता और स्वायत्तता होगी इस पर हमारी स्पष्ट सहमति है। जब मैंने ट्रेनी मैनेजर के तौर पर रैनबैक्सी में काम शुरू किया था तो मेर पास कंपनी की हिस्सेदारी थी, लेकिन फैसले करने का अधिकार नहीं था। फिर एक समय आया जब मेर पास दोनों थे- हिस्सेदारी भी और फैसले करने का अधिकार भी। एक दौर अब आया है, जब में प्रोफशनल की तरह हूं। मेर पास हिस्सेदारी नहीं है, लेकिन फैसले करने का अधिकार है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। आपको नहीं लगता कि इससे आगे जाकर कोई समस्या आएगी? बिल्कुल नहीं। हम हमेशा कंपनी की बेहतरी के लिए काम करते हैं। हमने यही किया है और यही करंगे। आपने कहा कि यह सौदा इस उद्योग के लिए एक नया मानक तैयार करगा। एक और उदाहरण नोवरटीÊा और सेंडोÊा का है। आपको लगता है कि आपका सौदा इससे ज्यादा सफल होगा? सेंडोÊा नोवरटीÊा की ही एक इकाई थी। इसका अधिग्रहण नहीं हुआ था। दाइची सैंक्यो और रैनबैक्सी दो अलग-अलग कंपनियां हैं। दोनों पहली बार साथ-साथ आए हैं। जबकि सैंडोÊा तो हमेशा से उनके पूरे तंत्र का ही हिस्सा थी। पर क्या इसी वजह से यह सौदा जोखिम भरा नहीं था? यह नहीं था। आने वाले समय में आपको ऐसे और सौदे भी दिखेंगे। दुनिया की बहुत सारी कंपनियां अगर आगे बढ़ना चाहेंगी तो उन्हें इसी रास्ते को अपनाना पड़ेगा। अगले कुछ साल में आपको यह दिखाई देगा। बात सिर्फ इतनी है कि हमने समय की आहट को थोड़ा पहले पहचान लिया। हमार पास ऐसे फैसले का साहस था, हमने सबसे पहले यह काम किया। इस लिहाज से यह महत्वपूर्ण है। कारोबार की दुनिया के हिसाब से आप अभी काफी जवान हैं। एक कारोबारी के लिहाज से आपके सामने कई साल पड़े हैं। दस साल बाद आप क्या कर रहे होंगे? कई एक्साइटिंग चीजें कर रहा हूंगा। हमेशा की तरह।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हमारे रास्ते पर कई कंपनियां जाएंगी