DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क के लिए होगा चुनाव का बहिष्कार

जखोली। हमारे संवाददाता। प्रखण्ड़ के अन्तर्गत स्वीकृत जखोली स्यालदूरी धनकुराली मोटर मार्ग पर कई बार विभागीय सर्वेक्षण होने के बाद भी निर्माण न होने से ग्रामीण रोजमर्रा की वस्तुओं को सिर पर ढोने को मजबूर हैं। पैदल चलना इन ग्रामीणों की मजबूरी बन गयी है। अब ग्रामीणों का सब्र टूटने लगा है।

उन्होंने मोटर मार्ग जल्द शुरू न किए जाने पर लोस व पंचायत चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी है। प्रखण्ड़ के तहत आठ हजार से अधिक आबादी वाले जखोली, स्यालदूरी, जगदी, धनकुराली, उरोली, उच्छना, पालाकुराली आदि गांवों के लिए 2006 में सड़क की मंजूरी मिली थी, लेकिन कई बार सर्वे करने के बाद भी आज तक सड़क का निर्माण शुरू नहीं हो पाया है।

ग्रामीण रामसहिं चौहान,नरेन्द्र राणा,मातबर सिंह, धूम सिंह राणा, शंकर सिंह राणा, पूर्व क्षेपंस रघुवीर राणा, पूर्व प्रधान बिजेन्द्र मेवाड़, सुरेन्द्र कैंतुरा का कहना है कि कई बार सड़क का प्रस्ताव बनाकर ग्राम प्रधानों और क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने शासन-प्रशासन को भेजे है मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

उन्होंने कहा कि यदि मोटर मार्ग निर्माण कार्य शीघ्र प्रारम्भ नहीं किया गया तो वे आगामी लोक सभा व पंचायत चुनावों का बहिष्कार करेंगे। खत्रियाणा के लोगों ने भी मांगी सड़कगैरसैंण। नगर पंचायत के अंतगर्त ग्राम खत्रियाणा अब (वार्ड सिलंगी) के लोगों की बैठक में निर्णय लिया गया कि यदि गांव को शीघ्र मोटर मार्ग से नहीं जोड़ा जाता है तो वे लोकसभा चुनाव के बहिष्कार को मजबूर होंगे।

पूर्व प्रधान जमन सिंह खत्री ने बताया कि ग्रामीण खत्रियांणा, सिंटोली, रिठिया और गोबरा से चौंरा तक साढ़े तीन किमी मोटर मार्ग निर्माण की मांग वर्षो से कर रहे हैं, लेकिन ग्रामीणों को जनप्रतिनिधि झूठे आश्वासन देकर गुमराह कर रहे हैं।

ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी भेजा है। ज्ञापन में जमन सिंह खत्री, जगदीश, शवि सिंह, हीरा सिंह, दिनेश, पंकज, दलबीर, सीता देवी, शकुंतला, देवी देवी व माली देवी सहित तीन दर्जन से अधिक ग्रामीणों के हस्ताक्षर हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सड़क के लिए होगा चुनाव का बहिष्कार