DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मलेशियाई विमान हादसा: रहस्य गहराया,अभी नहीं मिला मलबा

मलेशियाई विमान हादसा: रहस्य गहराया,अभी नहीं मिला मलबा

मलेशिया के विमान के लापता होने का रहस्य आज और गहरा गया, क्योंकि उसका पता लगाने के लिए प्रयासरत बहुराष्ट्रीय खोज दल दो दिन गुजर जाने के बावजूद अब तक कोई मलबा नहीं ढूंढ़ पाए। इस विमान में 239 लोग सवार थे।
    
मलेशिया के नागर विमानन विभाग के प्रमुख अजहरूद्दीन अब्दुल रहमान ने टेलीविजन पर प्रसारित संवाददाता सम्मेलन में कहा, दुर्भाग्य से हमें ऐसा कुछ नहीं मिला है, जो विमान से संबंधित वस्तु प्रतीत होती हो। बीजिंग जा रहे मलेशिया एयरलाइंस के विमान बोइंग 777-200 में पांच भारतीयों, भारतीय मूल के एक कनाडाई व्यक्ति सहित 227 यात्री और चालक दल के 12 सदस्य सवार थे।
   
जहाजों पर मौजूद वियतनामी जांचकर्ता सारी रात लापता विमान की तलाश में लगे रहे, लेकिन वे कल दिखी उस समकोण वस्तु को नहीं ढूंढ़ पाए, जिसे विमान के दरवाजों में से एक माना जा रहा था। रहमान ने बताया कि वियतनामी अधिकारियों ने मलेशिया को इन खबरों की पुष्टि नहीं की है कि उस विमान का मलबा मिल गया है जिसे मलेशियाई एयरलाइन्स का लापता विमान माना जा रहा है।
   
उन्होंने जोर देकर कहा कि अधिकारी अपहरण की संभावना सहित उन सभी कोणों और पहलुओं को देख रहे हैं, जिनके चलते विमान लापता हुआ। मलेशिया ने एमएच 370 उड़ान के लापता होने के मामले में कल आतंकी घटना से संबंधित जांच शुरू कर दी। यह विमान शुक्रवार की अर्धरात्रि कुआलालंपुर से उड़ान भरने के एक घंटे बाद अचानक रडार से अदृश्य हो गया था।

अलग अलग कोण को लेकर जांच तब शुरू की गई, जब यह पाया गया कि दो यात्री चुराए गए पासपोर्ट के आधार पर विमान में सवार हुए थे। प्रारंभिक जांच में भी संकेत मिला है कि विमान शायद वापस लौट गया होगा।

रहमान ने बताया कि टिकटधारक पांच यात्री विमान में सवार नहीं हो पाए थे। उन्होंने कहा कि उनका सामान उतार दिया गया था और वह लोग विमान में नहीं होंगे। सामान की सभी जांचों की निगरानी की गई थी।
   
गृह मंत्री अहमद जाहिद हमीदी ने कल कहा था कि विमान में सवार होने के लिए चोरी के पासपोर्ट का इस्तेमाल करने वाले दोनों यात्रियों का चेहरा एशियाई लोगों से मिलता जुलता था। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि मैं अब भी हैरान हूं कि (आव्रजन अधिकारी) इस बारे में क्यों नहीं सोच पाए कि एक इतालवी और एक ऑस्ट्रियाई (यात्रियों) का चेहरा एशियाई जैसा दिखता है।
   
यह पूछे जाने पर कि एशियाई लोगों की तरह दिखने वाले इन लोगों को जाने की अनुमति कैसे दी गई, रहमान ने कहा कि जांच अधिकारी इसे देख रहे हैं और वीडियो फुटेज तथा रिकॉर्ड खंगाले जा रहे हैं।
   
रहमान ने कहा कि कई रिपोर्ट, कई अवलोकन हैं। मलेशियाई समुद्री प्रवर्तन एजेंसी ने भी दक्षिण चीन सागर में परतें देखीं और उन्होंने इसके नमूने लिए तथा उन नमूनों को प्रयोगशाला भेजा गया है। मलेशियाई अधिकारियों ने कहा कि विमान के रहस्यमय ढंग से लापता होने को लेकर अधिकारी हैरान हैं। उन्होंने जोर देकर कहा कि जांच प्रयास तेज कर दिए गए हैं और इन्हें अंड़मान सागर तक विस्तारित कर दिया गया है।
   
विमान में सवार लोगों की सूची में 154 चीनी, 38 मलेशियाई, 7 इंडोनेशियाई, 6 ऑस्ट्रेलियाई, 5 भारतीय, 4 अमेरिकी और दो कनाडाई लोगों के नाम हैं। भारतीयों की पहचान चेतन कोलेकर (55), स्वानंद कोलेकर (23), विनोद कोलेकर (59), चंद्रिका शर्मा (51) और क्रांति श्रीसत (44) के रूप में हुई है।
   
रहमान ने कहा कि हमारी टीम ने कई वस्तुएं देखी हैं, लेकिन उनमें से किसी के भी विमान से संबंधित होने की पुष्टि नहीं हुई और विमान का अचानक इस तरह रडार से अदृश्य हो जाना, हम सचमुच हैरान हैं। प्रधानमंत्री ने पेचीदा शब्द का इस्तेमाल किया है।
   
लापता होने के बाद से विमान से कोई संकेत नहीं मिला है। इसके लापता होने के बाद एक जबर्दस्त जांच अभियान शुरू किया गया था। इस बहु राष्ट्रीय जांच अभियान में 40 पोत और 24 विमान मलेशिया, वियतनाम और अंड़मान जलक्षेत्र को खंगाल रहे हैं। रहमान ने कहा कि विमान का दरवाजा और पूंछ का हिस्सा दिखने जैसी विभिन्न खबरें प्रमाणित नहीं हो पाई हैं।
   
इस बीच, मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने कहा कि दो यात्रियों द्वारा चोरी के पासपोर्टों पर यात्रा किए जाने की खबरों के बाद देश में सभी हवाईअड्डों पर सभी हवाई यात्रा सुरक्षा प्रक्रियाओं की समीक्षा की जाएगी।
   
विमान की वापसी, जिससे घटना के आतंकी कृत्य होने का संदेह हुआ, की संभावना पर नजीब ने कहा, हमें किसी ठोस निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले सभी संभावित सुराग ढूंढ़ने होंगे और उनकी जांच करनी होगी। रॉयल मलेशिया एयरफोर्स के प्रमुख रादजली दाउद ने कल कहा कि सैन्य रडार पर इस तरह के संकेत मिले थे कि विमान ने शायद वापसी की कोशिश की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मलेशियाई विमान हादसा: रहस्य गहराया, नहीं मिला मलबा