DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केजरीवाल ने मोदी पर जमकर निकाली भड़ास

 नौहझील . हिन्दुस्तान संवाद आम आदमी पार्टी की रविवार को नौहझील में आयोजित जनसभा में दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसे।

गुजरात यात्रा की पूरी भड़ास उन्होंने मोदी पर निकाली। लगे हाथों उन्होंने मीडिया को भी लपेट लिया। फिर हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर भी निशाना साधा और यूपी की पूर्ववर्ती बसपा सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए एक्सप्रेस के जमीन अधिग्रहण आंदोलन की यादें किसानों को ताजा करा डालीं। केजरीवाल ने गुजरात के महिमा मंडन की धज्जियां उड़ाते हुए कहा कि मोदी की सरकार को अंबानी और अडानी चलाते हैं। निर्धारित वक्त से करीब चार घंटे बाद पहुंचे आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक श्री केजरीवाल ने कहा कि गुजरात में किसान खून के आंसू बहा रहा है।

वहां किसानों का जमकर शोषण हो रहा है। नौहझील में किसान नेता चौ़ रामबाबू कटैलिया द्वारा आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए श्री केजरीवाल ने कहा कि गुजरात जाकर देखो असलियत का पता चल जायेगा। गुजरात के हर जनपद में किसान त्रस्त हैं। किसानों की जमीनों को छीनकर अड़ानी और अम्बानी को दिया जा रहा है। गुजरात के किसानों की बेशकीमती जमीन कोडिम्यों के भाव उद्योगपतियों को दे दी गई। गुजरात की जिस जमीन पर अड़ानी और अम्बानी हाथ रख दें वही जमीन उनकी हो जाती है।

इनके लिए हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट कोई मायने नहीं रखते। उन्होंने मोदी पर चौतरफा वार करते हुए कहा कि मोदी टाटा को तो सब्सिडी दे सकते हैं, मगर वहां के किसानों को नहीं। पिछले दस सालों में 800 किसान गुजरात में आत्महत्या कर चुके हैं। यदि किसानों को सब्सिडी मिल गई होती तो बेचारे किसान आत्महत्या को मजबूर नहीं होते। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि यदि किसानों को गुजरात की असलियत पता चल गई तो कोई किसान मोदी को वोट नहीं देगा।

केजरीवाल ने मोदी के महिमा मंडन के आरोप मीडिया पर लगाते हुए कहा कि जब उन्होंने तीन कमरों का फ्लेट ले लिया तो सारे दिन टीवी पर यही खबर चलती रही। गुजरात में किसान आत्महत्या कर रहा है, उस खबर को किसी टीवी चैनल नहीं दिखाया। 60 हजार लघुउद्योग गुजरात में बंद पड़े हैं। उन्होंने भाषण के शुरुआती दौर में कहा कि यूपी के अन्दर भी किसानों की जमीन जबरन छीनी जा रही है। इसी का परिणाम था कि मायावती को सबक सिखाया।

चारों ओर यही हो रहा है। हरियाणा में भी हुड्डा सरकार डीएलएफ, वाड्रा और अम्बानी को जमीनें दे रही है। हरियाणा के किसान हुड्डा को सीएम नहीं बल्कि प्रोपर्टी डीलर मानते हैं। अपनी 49 दिन चली सरकार का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में उनकी सरकार के दौरान 50 फीसदी भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा। अन्त में उन्होंने कहा कि घर-घर जाकर आम आदमी पार्टी की रीति-नीतियों से लोगों को अवगत कराना है। दिल्ली के पूर्व शिक्षामंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा कि पश्चिमी उत्तर-प्रदेश के किसानों की तीन बड़ी समस्याएं हैं।

किसानों का शोषण, युवाओं में बेरोजगारी और रशि्वतखोरी ने बेड़ा गर्क कर रखा है। उन्होंने किसानों से झाडू चलाने का आह्वान किया। आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा कि उत्तर-प्रदेश में लगातार दंगे हो रहे हैं। अब तक हुए दंगों में किसी नेता का बेटा नहीं बल्कि आम आदमी और किसानों के बेटे ही मारे गये हैं। साम्प्रदायिकता और धर्मनिरपेक्षता की दुहाई देने वालों पर भी वह जमकर बरसे। रैली के संयोजक चौ़ रामबाबू सिंह कटैलिया ने किसानों के लिए अब तक किये गये संघषरें से केजरीवाल को अवगत कराया।

साथ ही आम आदमी पार्टी में अपनी आस्था व्यक्त करते हुए लोकसभा चुनाव में पूर्ण सहयोग करने की घोषणा की। सभा में दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती भी उपस्थित थे। सभा की अध्यक्षता सेठ कशिन लाल अग्रवाल ने व संचालन महावीर सिंह ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केजरीवाल ने मोदी पर जमकर निकाली भड़ास