DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चालीस को मिला कैलिपर और कृत्रिम अंग का सहारा

 मिर्जापुर। निज संवाददाता। नगर के लालडिग्गी स्थित रोटरी भवन में रविवार को विकलांगों के लिए कृत्रिम अंगप्रत्यारोपण शिविर के दूसरे दिन चालीस विकलांगों को लाभ पहुंचाया गया। सभी को आवश्यकतानुसार कैलिपर और कृत्रिम अंग प्रदान किया गया। अपने पैरों पर खड़े होते ही विकलांगों को मानो पल भर के लिए खुशी का पैगाम मिल गया। यह शिविर रोटरी क्लब मिर्जापुर व भगवान महावीर विकलांग सहायाता समिति के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया।

एक बारात में हर्ष फायरिंग के दौरान लगी गोली में अपना पैर गंवाने वाला रोशन तत्काल अपने पैरों पर खड़ा हो गया। रोशन ने कभी सोचा भी नहीं था कि वह अब चल भी पाएगा। इमामाबाड़ा के लक्ष्मी नारायण की खुशी भी कम नहीं रही। ट्रेन की चपेट में आने से पैर गंवा चुके लक्ष्मी के लिए रविवार का दिन बेहतद खुशी वाला रहा। रविंद्र को कृत्रिम अंग मिला तो वह मानो नया जीवन पा गए। कुछ ऐसा ही उनका अचार और व्यवहार प्रदर्शित हुआ।

रोटरी क्लब के अध्यक्ष मुकेश अग्रवाल ने शिविर की सफलता पर सहयोगियों को बधाई दी। इस अवसर पर शिशिर अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, डा. बीडी अग्रवाल, हनुमान दास अग्रवाल, माता प्रसाद जायसवाल, सुरेंद्र कुमार रैदानी, उषा अग्रवाल, रत्ना रैदानी, शीला खण्डेलवाल, मनीष गोयनका, बीवी गोयनका, सुमन बुधिया, आशीष गोयनका आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चालीस को मिला कैलिपर और कृत्रिम अंग का सहारा