DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

25 हजार के लिए मरीज को जबरन रोकने का आरोप

 फाजिलनगर। हिन्दुस्तान संवाद। स्थानीय कस्बे में स्थित एक नर्सिग होम के जिम्मेदारों पर 25 हजार रुपए न देने पर महिला को जबरन रोकने का आरोप लगा है। मरीज के पति ने वशिुनपुरा थाने में तहरीर दी जिस पर अस्पताल पहुंचकर पुलिस ने मरीज को भर्ती कराते हुए ठीक होने पर उसे डिस्चार्ज करने की बात कही। बतरौली धूरखरवा निवासी उषा पत्नी सुरेश का ऑपरेशन इस नार्सिग होम में दस दिनों पहले हुआ था। आरोप है कि रविवार को टांका कटाने महिला नर्सिग होम पहुंची।

महिला के पति के अनुसार नर्सिग होम के जिम्मेदार 25 हजार रुपए की मांग करते हुए कहा कि पैसा मिलने पर ही महिला को जाने दिया जाएगा। इसके बाद सुरेश ने थाने में संचालक के खिलाफ तहरीर दी। एसओ ने पटहेरवा पुलिस को जानकारी दी और पुलिस जब नर्सिग होम पहुंची तो अस्पताल के जिम्मेदार उषा को घर छोड़ने ले जा रहे थे। पुलिस ने नर्सिग होम के जिम्मेदारों को हिदायत दी कि महिला को भर्ती कर ठीक होने पर ही डिस्चार्ज किया जाय।

कोट:महिला को नर्सिग होम में भर्ती करा दिया गया है। अगर नर्सिग होम संचालक के खिलाफ तहरीर मिलेगी तो एफआईआर दर्ज किया जाएगा। कमला यादव, एसओ पटहेरवांं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:25 हजार के लिए मरीज को जबरन रोकने का आरोप