DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिलायंस पर कैग ने उठाई उंगली

कैग ने रविवार को कहा कि पेट्रोलियम मंत्रालय ने रिलायंस के केजी-डी6 ब्लॉक में गैस खोज की अधिसूचना को पर्याप्त मूल्यांकन बिना ही मंजूरी दे दी।

कैग की केजी डी6 ब्लॉक पर मसौदा ऑडिट रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस को अक्तूबर 2002 में धीरूभाई-1 और 3 क्षेत्र के कुओं में गैस मिली। इसके बाद उसे अप्रैल 2003 और मार्च 2004 के बीच ही वाणिज्यिक रूप से व्यावहारिक घोषित कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रिलायंस पर कैग ने उठाई उंगली