DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संगकारा की जगह भर देगा तिरिमाने : मैथ्यूज़

संगकारा की जगह भर देगा तिरिमाने : मैथ्यूज़

पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप फाइनल में मैच विजेता शतक जड़ने वाले लाहिरू तिरिमाने की जमकर तारीफ करते हुए श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज़ ने कहा कि यह युवा बल्लेबाज अनुभवी कुमार संगकारा के संन्यास लेने के बाद उनकी जगह भर सकता है।

तिरिमाने ने कल रात 101 रन की पारी खेली जिससे श्रीलंका ने पाकिस्तान को पांच विकेट से हराकर एशिया कप का खिताब जीता। मैथ्यूज़ ने मैच के बाद कहा, आप उसे उपरी क्रम में भेजो या मध्यक्रम में वह ऐसा खिलाड़ी है जिसे जहां भी मौका मिले वहां रन बनाता है। वह हमारे लिये बहुत बड़ी खोज है।

उन्होंने कहा कि संगकारा और माहेला (जयवर्धने) के संन्यास लेने के बाद तिरिमाने और (दिनेश) चंदीमल ऐसे खिलाड़ी है जो उनकी भूमिका निभा सकते हैं। उनकी जगह को भरना आसान नहीं होगा लेकिन इस समय वे जिस तरह से प्रदर्शन कर रहे हैं, मुक्षे पूरा विश्वास है कि वे जिम्मेदारी उठा लेंगे।

मैथ्यूज़ ने कहा कि उसने हमारे लिए बेजोड़ पारियां खेली है। वह दुर्भाग्य से पिछली सीरीज़ में चोटिल हो गया था। पिछली दो पारियों में बल्लेबाजी करते समय भी उसे परेशानी हो रही थी लेकिन उसने जज्बा दिखाया और खेलता रहा।

तिलकरत्ने दिलशान के बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज़ के दौरान उंगली की चोट के कारण हट जाने से तिरिमाने को यहां सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभानी पड़ी और मैथ्यूज़ ने कहा कि बायें हाथ का यह बल्लेबाज किसी भी बल्लेबाजी क्रम में रन बना सकता है।

मैथ्यूज़ ने कहा कि हमें देखना होगा कि आगे क्या करना है। दिलशान के बांग्लादेश सीरीज़ के दौरान चोटिल होने से उसे पारी का आगाज करने का मौका मिला। जैसे मैंने कहा कि आप उसे मौका दो और वह हमारे लिए रन बनाएगा। हमें अभी इस पर विचार करना है कि उसे किस क्रम में बल्लेबाजी करनी है लेकिन निश्चित तौर पर वह हमारे लिए इस टूर्नामेंट की खोज है।

श्रीलंकाई कप्तान ने इसके साथ ही लेसिथ मालिंगा की भी तारीफ की जिन्होंने 56 रन देकर पांच विकट लिए और पाकिस्तान को पांच विकेट पर 260 रन के स्कोर पर रोकने में अहम भूमिका निभायी। मैथ्यूज़ ने कहा कि इस तेज गेंदबाज को फाइनल के लिए तरोताजा रखने की रणनीति कारगर साबित हुई।

उन्होंने कहा कि हमने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में उसे विश्राम दिया ताकि वह फाइनल में खेले। लगातार खेलना आसान नहीं है। तेज गेंदबाजों को काफी थकान हो जाती है और हमारे पास विश्राम के लिए पर्याप्त समय नहीं था। आपको उनका खयाल रखना पड़ता है। उसने पहले मैच भी हमारे लिए पांच विकेट लिए थे और फिर फाइनल में भी यही कारनामा किया। मैं उसके प्रदर्शन से बहुत खुश हूं।

मैथ्यूज़ ने पूरी टीम की तारीफ करते हुए कहा कि कड़ी मेहनत के कारण उनकी टीम चैंपियन बन पायी। उन्होंने कहा कि हम काफी पहले से यहां आए थे लेकिन इसका मतलब यह नहीं था कि आपको स्वत: ही जीत मिल जाएगी। हमने कड़ी मेहनत की और हमें उसका फायदा मिला। हमें कुछ दिन पहले यहां आने का थोड़ा फायदा मिला लेकिन फिर भी अन्य टीमों को हराने के लिए हमें अच्छा प्रदर्शन करना ही था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:संगकारा की जगह भर देगा तिरिमाने : मैथ्यूज़