DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बार-बार बयान बदला रहा है तिलेश्वर का शूटर

रांची। विशेष संवाददाता। तिलेश्वर साहू को गोली मारने वाला सूरज प्रसाद बरही पुलिस के समक्ष कई बार बयान बदल रहा है। वह पहले अपने को गुमला निवासी बता रहा था, लेकिन अब औरंगाबाद तो कभी हिलसा (नालंदा) का बता रहा है। हजारीबाग के एसपी मनोज कौशिक ने बताया कि इस कांड को अंजाम देने वाले सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सूरज प्रसाद से पूछताछ जारी है। कभी वह अपना नाम अमित कुमार बता रहा है। वह मूल रूप से शूटर है।

उसने पुलिस को बताया है कि पीएलएफआइ के दिनेश गोप ने उसे यह काम सौंपा था। इसके लिए निर्धारित रकम का भुगतान भी किया गया था। एसपी का कहना है कि हर बिंदू पर उससे पूछताछ हो रही है। उन्होंने कहा कि उसने अपने दूसरे साथी का नाम भी बताया है, वह भी उसी के इलाके का रहने वाला है। वह सिर्फ इतना बताता है कि दिनेश गोप से दोनों मिलने गए थे। बरही और आसपास के इलाकों में दोनों शरण लिए हुए थे।

पहाड़ी चीता और शांति सेना चलाते थे तिलेश्वर

तिलेश्वर साहू मूल रूप से गुमला के रहने वाले थे। उन्होंने नक्सलियों के खिलाफ बगावत की थी। इस कारण उनके परिवार के कई लोगों की हत्या कर दी गई थी। बाद में उन्होंने कुछ युवकों को संगठित किया और पहाड़ी चीता और शांतिसेना का गठन किया था।

साहू का भगीना पहाड़ी चीता से जुड़ा है और जेल भी जा चुका है। तिलेश्वर के खिलाफ भी कई गंभीर मामले दर्ज थे। इसमें गुमला, सिमडेगा में आपराधिक मामले जबकि बोकारो, गिरिडीह में कोयला चोरी के मामले दर्ज हैं।

हत्या के बाद पुलिस उनकी आपराधिक इतिहास को खंगाल रही है। पुलिस का दावा है कि बढ़ती दुश्मनी के कारण ही उन्हें बरही में जाकर रहना पड़ रहा था।

जल्द होगा पूरे मामले का खुलासा: डीजीपी

डीजीपी राजीव कुमार ने कहा कि जल्द ही पूरे मामले का खुलासा हो जाएगा और इसमें शामिल सभी अपराधी जल्द गिरफ्तार कर लिए जाएंगे। डीजीपी खुद इस मामले को देख रहे हैं। झारखंड पुलिस की टीम जरूरत पड़ी तो अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए बिहार भी जा सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बार-बार बयान बदला रहा है तिलेश्वर का शूटर