DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा के मसले पर आइसा का आन्दोलन आज

 लखीमपुर-खीरी। कुछ निजी डिग्री कालेजों में परीक्षाएं टलने का मामला एक बार फिर गरमा गया है। आल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (आइसा) ने रविवार को आन्दोलन की चेतावनी दी है। रविवार को कालेजों के छात्र धरने पर बैठेंगे। कानपुर विश्वविद्यालय ने जिले के चार डिग्री कालेजों में परीक्षाएं मार्च की बजाय अगस्त में कराने का निर्देश जारी किया था। ऐन परीक्षाओं से पहले मिली इस सूचना से भड़के छात्रों ने जमकर बवाल किया।

बीआरडी कालेज फत्तेपुर में तो खूब हंगामा मचा। छात्रों ने कम्प्यूटर तोड़ डाले। स्कूल के वाहन तोड़े। इसी दिन कमला डिग्री कालेज फत्तेपुर में भी छात्रों ने खूब हंगामा किया। इसके बाद बीआरडी कालेज ओयल और उस्मानी डिग्री कालेज महेवागंज में भी छात्रों ने खूब हंगामा किया। इस मामले को लेकर आइसा ने ऐलान किया है कि रविवार को छात्र धरना देंगे। साथ ही कहा कि अगर कालेज इस मामले में लिखित जवाब नहीं देंगे तो आन्दोलन और तीखा किया जाएगा।

बाक्सकालेजों की गलती नहीं: एबीवीपी=उधर एबीवीपी ने दूसरा रुख अख्तियार किया है। जिला संयोजक सूर्याश गुप्ता ने कहा कि इस मामले में कालेजों की कोई गलती नहीं है। जिनकी परीक्षाएं अभी तक नहीं हुई हैं, उनको अगस्त में मौका मिलेगा। इस बात की पुष्टि कानपुर विश्वविद्यालय के कुलसचवि ने पत्र भेजकर की है। परीक्षा की देरी का कारण छात्रों के भविष्य से जुड़ा है। विश्वविद्यालय ने कहा है कि अगर 180 दिनों की क्लास न चली तो परीक्षा नहीं होगी।

इसी वजह से परीक्षाएं टाली गई हैं। उन्होंने कहा कि इस सच के बाद भी कुछ संगठन छात्रों को बरगला रहे हैं। बाक्सप्रथम वर्ष को छोड़कर हो रही हैं परीक्षाएं=शनिवार को उस्मानी डिग्री कालेज की ओर से जारी प्रेस नोट में दावा किया गया कि कालेज में बीए प्रथम वर्ष को छोड़कर बीए द्वितीय व तृतीय वर्ष की परीक्षाएं चल रही हैं। प्राचार्य डॉ. बीके शुक्ला ले बताया कि बीए द्वितीय वर्ष में 425 व तृतीय वर्ष में 275 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षा के मसले पर आइसा का आन्दोलन आज