अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीम हकीम के चक्कर में गई मरीज की जान

बीती रात सादिकपुर पंचायत में एक नीम हकीम ने एक मरीा की बिना सोचे-समझे आपरशन कर दिया। आपरशन के बाद मरीा के घाव से निकल रहा खून बंद नहीं हुआ और मरीा की मौत हो गयी। मरीा के परिानों ने नीम-हकीम के घर के पास हंगामा किया।ड्ढr ड्ढr जानकारी के अनुसार सीतामढ़ी निवासी बिजय प्रसाद का करंट लगने से हुए घाव का विगत दो वर्षो से इलाज बीएचयू (बनारस) के अस्पताल में चल रहा था और उनका घाव ठीक नहीं हो रहा था। इस बात की खबर जब नीम-हकीम जनौरी डाक्टर को लगी तो उसने दावे के साथ कहा कि वो अपने इलाज से मरीा का घाव ठीक कर देगा। मरीा के परिान मरीा को बनारस से सादिकपुर लाए और इस नीम-हकीम ने बिना सोचे-समझे उसका आपरशन कर दिया। आपरशन के दौरान कोई नश कट गया और खून बहना बंद नहीं हुआ और मरीा की मौत हो गयी। सनद रहे कि सादिकपुर गांव में नीम-हकीमों के द्वारा खानदानी दवाखाना के तहत घाव का इलाज किया जाता है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नीम हकीम के चक्कर में गई मरीज की जान