DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीटने के बाद करंट लगाकर की गई साजिद की हत्या

रामगढ़। संवाददाता। युवक की हत्या मामले में मृतक के परिजनों ने अज्ञात भीड़ के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया है। दर्ज प्राथमिकी में मृतक के भाई मो शब्बीर का कहना है कि साजिद की हत्या भीड़ ने साजिश के तहत कर दी है। उसे पीटने के बाद करंट लगाकर बर्बतापूर्वक मार डाला गया है।

परिजनों का कहना है कि युवक पर आजतक थाने में सनहा भी नहीं दर्ज है फिर उसे चोर क्यों बताया जा रहा है? परिजनों ने पुलिस से निष्पक्ष जांच करने की अपील की है। इसके साथ ही देर शाम रिलायंस मोबाइल के प्रतिनिधि ने भी थाने में अज्ञात के खिलाफ बैट्री चोरी का आरोप लगाते हुए एफआइआर दर्ज की है। रामगढ़ थाना के इंस्पेक्टर दिलू लोहार ने बताया कि दोनो तरफ से दर्ज एफआइआर पर छानबीन की जा रही है।

युवक को रात में फोन कर बुलाया थायुवक के मामा मो फिरोज ने पत्रकारों को बताया कि साजिद को साढ़े दस बजे रात में किसी ने फोन कर बुलाया था। जिसके बाद रात में ही अपनी कार बीआर 14 एम 8524 लेकर निकल गया। साजिद से छोटे भाई शब्बीर ने पूछा भी था कि रात में कहां जा रहे हो? उसने जवाब में जल्द ही आने की बात कही थी। साजिद के मोबाइल पर किया फोन तो मिली जानकारी परिजनों ने बताया कि साजिद के मोबाइल पर ही सुबह साढ़े सात बजे फोन किया तो फोन उठानेवाले ने कहा कि रामगढ़ थाना से बोल रहे हैं।

साजिद घायल अवस्था में थाने में है। इसके बाद जब परिजन थाना पहुंचे तो उनके होश उड़ गए। युवक को बहुत ही बेरहमी से करंट लगाकर मारा गया है। भीड़ ने गाड़ी को कुछ क्यों नहीं किया? मृत युवक के परिजनों का कहना है कि पुलिस कह रही है कि बैट्री चोरी करते हुए ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ा और हत्या कर दी जबकि यह बात सच्चाई से परे है। यदि भीड़ चोरी करते पकड़ कर पीटती तो फिर गाड़ी सही सलामत कैसे रहता? यही प्रकरण साजशि की ओर इशारा कर रहा है।

चप्पल बेचकर घर चलाता था युवक परिजनों का कहना है कि साजिद मेन रोड में विष्णु होटल के पास फुटपाथ पर चप्पल बेचकर घर चलाता था। साजिद का बड़ा भाई विदेश में रहता है और यहां के पांच सदस्यों के परिवार की सारी जिम्मेवारी उसी के कंधे पर थी। साजिद चार भाईयों में दूसरे नंबर पर था। घटना के बाद थाना पहुंचे भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष मो आसिफ ने पुलिस से हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग की है। आखिर किसने चुराई बैट्री? इन सबके बीच एक सवाल उभरकर सामने आ रहा है कि आखिरकार रिलायंस के टावर से बैट्री किसने चुराई? टावर से 13 बैट्री गायब है और ये बैट्री मृतक की कार में रखे थे।

इसके कारण मामला संदेहास्पद बन जा रहा है। हालांकि बैट्री चोरी की घटना में भीड़ द्वारा करंट लगाकर हत्या करने की वारदात समझ से परे नजर आ रही है। कुछ लोगों का कहना है कि कहीं किसी और साजशि का शिकार तो साजिद नहीं हुआ? बहरहाल पुलिस कुछ भी साफ-साफ कहने से बच रही है। अब देखना यह है कि पुलिस की जांच में क्या सामने आता है? बॉक्स के लिए- यह भीड़तंत्र का विभत्स चेहरा है रामगढ़। रवशिंकर उपाध्याय लोकतंत्र के महापर्व की घोषणा जिस दिन हुई उसके दूसरे ही रात रामगढ़ के छत्तरमांडू में भीड़तंत्र हावी हो गया।

वह भीड़तंत्र जो एकतरफा इंसाफ करता है और जिसकी प्रक्रिया में मानवता का कहीं कोई स्थान नहीं है। इसी का परिणाम है कि मामूली चोरी के आरोपी की पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी जाती है। उसे करंट लगाकर मार डाला जाता है। रामगढ़ में बरसों बाद भीड़ का विभत्स चेहरा सामने आया है। यह वह चेहरा है जिसमें शायद ही कोई अपना अक्स ढूंढना पसंद करेगा। घटना के बाद छत्तरमांडू में सन्नाटा पसरा है ना तो चौक-चौराहे के दुकान पर लोग बोलना पसंद करते हैं ना ही रिलायंस टावर के आसपास के रहनेवाले।

सभी लोग घटना से अंजान बन रहे हैं, घटनास्थल के पास आलू उखाड़ रही महिलाएं कहती हैं कि वो तो सुबह से लेकर शाम तक काम कर रात में सो जाती है। तो फिर उसे कैसे पता होगा? गांव के एक जमींदार और उपमुखिया की भी जानकारी में कुछ नहीं है तो आखिर घटना कैसे घटी? हां सबलोग यह कहते हैं कि सुबह में लाश टावर के दो तीन खेत के बाद पड़ी हुई थी।

सवाल यह भी है कि कोई भी युवक को बचाने के लिए क्यों नहीं सामने आया? एक सभ्य समाज में भीड़ का यह कैसा इंसाफ है?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीटने के बाद करंट लगाकर की गई साजिद की हत्या