DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सौ से ऊपर कांग्रेसियों की बातें सुनीं इकबाल ने

प्रदेश अध्यक्ष के दावेदार होटल सम्राट में और दावेदार अध्यक्षों के समर्थक सदाकत आश्रम में। शनिवार को भारी बारिश के बावजूद प्रदेश कांग्रस को मजबूत करने की कवायद का यह दृश्य पटना में दिखा। कांग्रस आलाकमान के दूत बनकर बिहार के आकस्मिक दौरे पर आये सरदार इकबाल सिंह ने दिनभर में सौ से ऊपर पार्टीजनों की बातें सुनी। दो दिनों के मंथन के बाद अब अगले दो दिन वे जमीनी हकीकत पता लगाने जिलों के दौर पर जाएंगे। पूछने पर राष्ट्रीय सचिव एवं असम एवं आंध्रप्रदेश के प्रभारी सरदार इकबाल सिंह ने कहा कि 17 जून को वे सभी जिला अध्यक्षों एवं प्रदेश कांग्रस के पदाधिकारियों के साथ बैठक करंगे। इसके लिए जिला अध्यक्षों को पटना आने का दो दिन का समय दिया गया है ताकि वे अपने जिले के मजबूत कांग्रसियों के साथ विचार-विमर्श कर सही तथ्य उनके समक्ष प्रस्तुत कर सकें।ड्ढr ड्ढr इसके पूर्व रविवार को मुजफ्फरपुर एवं सोमवार को गया जिला का दौरा करेंगे। शनिवार को विधायक अब्दुल जलील मस्तान, पूर्व मंत्री विश्वमोहन शर्मा एवं वीणा शाही, इंटक अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश, कपिलदेव यादव, सुबोध कुमार, मदनमोहन झा, एचके वर्मा, अजय कुमार चौधरी, कौकब कादरी, गोरलाल यादव, डा. विनोद कुमार, शंभू सिंह पटेल, शंभूनाथ सिन्हा समेत सौ से ऊपर नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सरदार इकबाल सिंह से भेंटकर प्रदेश कांग्रेस की मजबूती के लिए अपने तर्क पेश किये। अधिकांश ने सभी 40 लोकसभा सीटों पर लड़ने की तैयारी करने की नसीहत दी तो कई अब भी सही सहयोगी दल के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ने की बात समझाते दिखे। हालांकि आलाकमान द्वारा प्रदेश प्रभारी महासचिव केसी देव और सचिव मनीष तिवारी की जगह सरदार इकबाल सिंह को बिना किसी योजना के बिहार भेजने पर कांग्रसी दिनभर अटकलें भी लगाते रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सौ से ऊपर कांग्रेसियों की बातें सुनीं इकबाल ने