DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोयला अधिकारियों का हड़ताल 13 से 15 तक

उरीमारी। निप्र। कोल माइंस ऑफिसर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीएमओएआई) के अधिकारी अपनी मांगों को लेकर 13, 14 और 15 मार्च को हड़ताल पर रहेंगे। इसकी तैयारी बरका-सयाल प्रक्षेत्र में व्यापक पैमाने पर शुरू कर दी गई है।

इस हड़ताल में बरका-सयाल के कुल 240 अधिकारियों सहित पूरे सीसीएल के करीब 2700 अधिकारी शामिल होंगे। प्रक्षेत्र में दौरे के बाद हड़ताल के संबंध में प्रेस वार्ता के दौरान सीएमओएआई के क्षेत्रीय सचवि संजय कुमार और अध्यक्ष आईडीपी सिंह ने कहा कि प्रक्षेत्र के सभी अधिकारी कोल इंडिया प्रबंधन की बेरूखी से सभी अधिकारी काफी गुस्से में हैं। इसी के परिणाम स्वरूप हड़ताल की घोषणा की गई है। उन्होंने कहा कि कोल इंडिया प्रबंधन ने भारत सरकार को 10 हजार करोड़ रुपये दिए हैं पर हमारे लिए बोलते है कि पैसा नहीं है।

चेतावनी दी कि यदि कोल इंडिया प्रबंधन अधिकारियों की मांगों को पूरा नहीं करता है तो हड़ताल से कोयला जगत की हालत चरमरा जाएगी इसमें दो राय नहीं। अधिकारी द्वय ने सबों से हड़ताल को सफल बनाने की अपील की है।

-क्या है अधिकारियों की प्रमुख मांगें- कोयला अधिकारियों की प्रमुख मांगों में अधिकारियों का पीआरपी का भुगतान, न्यू पेंशन स्कीम को लागू करना, कैरियर ग्रोथ योजना को लागू करना, पे रिवीजन करना, तीन साल के पीआरपी का 75 प्रतिशत एडवांस भुगतान हुआ पर अब रिटायर हो रहे अधिकारियों को ये राशि लौटानी पड़ रही है, जिसे रोका जाए, पे रिविजन के समय से लटका बेसिक और डीए का 9.84 फीसदी राशि जो पेंशन मद में भुगतान करना था पर अब तक नहीं हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोयला अधिकारियों का हड़ताल 13 से 15 तक