DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेपाल और बिहार पुलिस में बढ़ेगा आपसी सहयोग

पटना। विनोद बंधु। नेपाल और बिहार पुलिस सीमा के आर- पार अपराधियों के खिलाफ साझा मुहिम चलाएगी। अपराध को अंजाम देने के बाद खुली सीमा का लाभ उठाने वाले पेशेवर अपराधियों की मुश्किलें आने वाले दिनों में बढ़ेगी। चुनाव के दौरान भी नेपाल पुलिस अपराधियों की आवाजाही पर शिकंजा कसेगी।

गुरुवार को नेपाल पुलिस के प्रमुख उपेन्द्र कांत अडिम्याल अपनी पूरी टीम के साथ दो दिवसीय दौरे पर पटना पहुंचे। बिहार पुलिस की मेजबानी से गदगद श्री अडिम्याल ने शुक्रवार की सुबह हिन्दुस्तान से खास बातचीत में कहा कि जिस तरह अपराध और अपराधियों का अंतरराष्ट्रीयकरण हुआ है, उससे निपटने के लिए पड़ोसी देशों की पुलिस के बीच परस्पर सहयोग और समझदारी को और मजबूत करना होगा। इस अर्थ में उनकी पटना यात्रा कामयाब रही। बिहार पुलिस का रवैया काफी सकारात्मक रहा।

एक सवाल के जवाब में श्री अडिम्याल ने बताया कि उनकी पटना यात्रा काफी अच्छी रही। वह पहली बार पटना आए थे। उन्होंने कहा कि बिहार के डीजीपी अभयानंद और बिहार पुलिस के अन्य शीर्षस्थ अधिकारी काफी भद्र और अनुभवी हैं। उनका अप्रोच प्रोफेशनल है। हमने आपस में समझदारी विकसित करने, परस्पर सहयोग को और बेहतर करने, सूचनाओं के आदान- प्रदान के नेटवर्क को मजबूत करने समेत पुलिसिंग के अन्य पहलुओं पर बातचीत की है। इन पहलुओं पर आपस में सहमति बनी है।

नेपाल पुलिस के महानिरीक्षक श्री अडिम्याल ने कहा कि आज के दौर में अपराध और अपराधियों का अंतरराष्ट्रीयकरण हो गया है। एक देश में क्राइम कर अपराधी पड़ाेस के दूसरे देशों में चले जाते हैं। पड़ोसी देशों के अपराधियों के बीच न केवल अच्छा एसोसिएशन है, बल्कि सूचनाओं के आदान- प्रदान का उनका नेटवर्क भी काफी अच्छा है। भारत- नेपाल के बीच खुली सीमा दोनों देशों की पुलिस की बड़ी चुनौती है। इसके मद्देनजर पड़ोसी देशों की पुलिस के बीच परस्पर बेहतर सहयोग बेहद जरूरी है।

एक सवाल के जवाब में श्री अडिम्याल ने बताया कि आर्म्स के अवैध कारोबार, तस्करी और अपराध सीमा के आर- पार पुलिस की चुनौतियां हैं। हम इनके खिलाफ साझा मुहिम चलाएंगे। अपराधी अब कहीं सुरक्षित नहीं रहेंगे। उन्होंने बताया कि नेपाल और बिहार पुलिस स्थानीय स्तर पर सीमा के आर- पार अपनी- अपनी आवश्यकता के अनुसार परस्पर रणनीति तैयार करेगी। श्री अडिम्याल ने कहा कि नेपाल और बिहार के बीच सदियों पुराना पारिवारिक, सामाजिक, धार्मिक और प्राकृतिक रशि्ता है। हमारे बीच परस्पर सहयोग इन अर्थो में भी जरूरी है।

श्री अडिम्याल के साथ नेपाल पुलिस की सीआईडी, स्पेशल ब्यूरो के प्रमुखों समेत गृह मंत्रालय के अधिकारी भी आए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेपाल और बिहार पुलिस में बढ़ेगा आपसी सहयोग