अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीनगर में ग्रेनेड हमला,एक मरा

पाक परस्त आतंकियां न शनिवार को ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर मं एक लम्ब अरस क बाद ग्रनड हमलां की झड़ी लगा कर सभी का दहशतजदा कर दिया। उन्हांन एक घंट क अंतराल मं तीन स्थानां पर हथगालां स हमले किए। एक हमला अभद्य सुरक्षा वाल नागरिक सचिवालय पर भी हुआ और एक हमला सिनमाघर क अंदर हुआ। इन हमलां मं एक जवान की मौत हो गयी जबकि पांच अन्य जख्मी हुए हैं। य हमल शुक्रवार की रात किश्तवाड़ मं दा सैन्य अफसरां समत पांच सैनिकां की हत्या क 12 घंटां क बाद हुआ जिसन सुरक्षाधिकारियां क लिए चिंता इसलिए पैदा कर दी है क्यांकि 4 दिनां क बाद अमरनाथ यात्रा शुरू हान वाली है और आतंकी हिंसा मं तजी आन लगी है।ड्ढr ड्ढr सीआरपीएफ क श्रीनगर स्थित प्रवक्ता पी त्रिपाठी न इसकी पुष्टि की है कि आतंकियां द्वारा नागरिक सचिवालय का निशाना बना दागा गया ग्रनड नीलम सिनमा स सट नागरिक सचिवालय की बाहरी दीवार क साथ बनाए गए बंकर क पास जाकर फूटा था। नतीजतन एक कांस्टबल की मौत हा गई तथा एक राहगीर महिला और एक अन्य कांस्टबल गंभीर रूप स जख्मी हा गए। घायलां का अस्पताल ले जाया गया है जहां उनकी स्थिति नाजुक बताई जाती है। आतंकियां न नागरिक सचिवालय पर हमले क तुरंत बाद बाटाशाह मुहल्ले मं भी सुरक्षाबलां क एक बंकर पर हथगाल स हमला किया। नतीजतन एक जवान गंभीर रूप स घायल हा गया। हथगालां की बरसात यहीं नहीं रूकी। आतंकियां न हवल मं एक सिनमाघर मं ग्रनड स हमला कर दिया। सिनमाघर मं हथगाला फूटा ता जरूर लकिन काई जख्मी नहीं हुआ क्यांकि हमले क समय वहां काई नहीं था।ड्ढr ड्ढr एक लम्ब अरस बाद आतंकियां न नागरिक सचिवालय पर हमले की काशिश की है। नागरिक सचिवालय की सुरक्षा क बार मं दावा किया जाता है कि वह अभद्य है। पर शनिवार का हमला इस दाव पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। इतना जरूर है कि सचिवालय क पीछ क सुत्राशाही मुहल्ल स दाग गए ग्रनड न अधिक क्षति नहीं पहुंचाई है क्यांकि सचिवालय मं शनिवार की छुट्टी हान क कारण सचिवालय क अंदर-बाहर अधिक भीड़ नहीं थी।ड्ढr ड्ढr सचिवालय पर हमले का अधिकारी गंभीरता स ल रह हैं। यह हमला शुक्रवार की रात किश्तवाड़ मं हुए आतंकी हमल, जिसमं सना क दा अफसरां समत 5 लाग मार गए थ, क 12 घंटां क बाद हुआ है। उसस पहले आतंकियां न शुक्रवार को बारामुल्ला मं भी ग्रनड हमला कर दर्जनभर लागां का जख्मी कर दिया था। कश्मीर रंज क पुलिस महानिरीक्षक एस एम सहाय क मुताबिक आतंकी अमरनाथ यात्रा का क्षति पहुंचाना चाहत हैं तथा हमलां का मकसद अमरनाथ यात्रियां का डराना भी है। अमरनाथ यात्रा 4 दिनां क बाद 18 जून का शुरू हागी और उसस पहल आतंकी हमले सुरक्षाधिकारियां क पांव तले स जमीन खिसका रही है जा अमरनाथ श्रद्धालुआं की रक्षा की खातिर डढ़ लाख सुरक्षाकर्मियां की तैनाती क बाद भी आशंकित हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: श्रीनगर में ग्रेनेड हमला,एक मरा