DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौबे फिर बोले, शाहनवाज किशनगंज से लड़ें चुनाव

कार्यालय संवाददाता भागलपुर। नगर विधायक अश्विनी कुमार चौबे ने कहा है वह अपनी पुरानी बात पर अब भी कायम हैं कि सांसद शाहनवाज हुसैन को कशिनगंज जाकर चुनाव लड़ना चाहिए। भागलपुर में बहुसंख्यक समुदाय के वैसे लोगों को टिकट मिलना चाहिए जो जनता से जुड़े हों। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि कशिनगंज की जनता आज भी शाहनवाज से लगाव रखती है और उनकी भावनाओं की चिंता के कारण ही वह चाहते हैं कि शाहनवाज वहां से चुनाव लड़ें।

चौबे ने जदयू में शामिल होने और उसकी टिकट पर चुनाव लड़ने की बात को खारिज करते हुए कहा कि वह गिरगिट की तरह रंग बदलने वाले नेता नहीं हैं। वह अंतिम समय तक भाजपा में ही रहेंगे। भगवा रंग उनके जीवन के अंत तक उनसे जुड़ा रहेगा। पार्टी नेतृत्व द्वारा उनके सुझाव को दरकिनार करने के बाद उनका अगला कदम क्या होगा? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि उनका काम पार्टी में पहरेदार का है। पहरेदार का काम कर दिया।

अब जो जगे उनका भी भला और जो नहीं जगे उनका भी भला। गठबंधन या अन्य मुद्दों पर पार्टी ने जो निर्णय लिया है वह उसका अनुशासित कार्यकर्ता की तरह पालन करेंगे। तो क्या वह एनके यादव के लिए स्नातक चुनाव में वोट मांगने जाएंगे, इसपर उन्होंने स्पष्ट कहा कि-वोट मांगना न मांगना यह मेरा धर्म है। मैं उन्हें बस जीत की शुभकामना दे सकता हूं। उन्होंने कहा कि वह एनके यादव के लिए मतदान भी नहीं कर सकते क्योंकि इसके लिए ग्रेजुएट होना जरूरी है।

चौबे ने कहा कि उन्होंने चेहरा, चाल और चरित्र देखकर टिकट देने की बात कही थी। यही बात लोकसभा और विधानसभा के लिए टिकट देने में भी ध्यान रखना होगा। वैसे प्रत्याशियों को लोकसभा चुनाव में टिकट मिलना चाहिए जिनका क्षेत्र में कार्यकर्ताओं के साथ सामंजस्य हो। भागलपुर के सवाल पर चौबे ने कहा-यह वक्त पर दिखेगा। उन्हें केन्द्रीय नेतृत्व के सामाने जो बातें रखनी थी रख दी। लोकसभा चुनाव में प्रचार की बाबत उन्होंने कहा कि उन्हें सिर्फ भागलपुर ही नहीं पूरे बिहार में प्रचार करना है।

पार्टी जो भी आदेश देगी, करेंगे। चाहे चुनाव प्रचार के लिए कहे चाहे चुनाव लड़ने के लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चौबे फिर बोले, शाहनवाज किशनगंज से लड़ें चुनाव