DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाज बदला, पर नजरिया बदलने से बनेगी बात

नई दिल्ली, प्रमुख संवाददाता महिलाओं के प्रति हिंसा केवल दिल्ली में ही नहीं देश में हर जगह देखी जा रही है, लेकिन नशि्चित रूप से दिल्ली ज्यादा असुरक्षित है। समस्या हमारे नजरिए में है, कहने को समाज बदला है, मगर महिला सम्मान के प्रति नजरिया बदले बिना बात नहीं बनेगी। बसंत वहिार सामूहिक बलात्कार मामला केवल उदाहरण मात्र है, मुंबई में भी महिलाएं असुरक्षित है। सत्यमेव जयते के पहले एपीसोड के बाद स्थिति में बदलाव के सुझाव मिल रहे हैं, जिसपर अमल करने के लिए राज्य सरकारों से संपर्क किया जाएगा।

वशि्व महिला दिवस की पूर्व संध्या के अवसर पर सिने अभिनेता आमिर खान शुक्रवार को इंडियन वुमेन प्रेस क्लब में महिला पत्रकारों से रूबरू हुए। आमिर ने कहा कि हम बदलाव के लिए एक दुसरे का चेहरा देखते हैं जबकि बदलाव हमसे ही शुरू होता है। मैने देश बदलने और सत्यमेव जयते को टीवी पर लाने के लिए दो साल तक शोध काम किया, कोई मुझसे पूछता है केवल शो दिखाने से क्या होता है? ऐसे लोगों से आमिर सीधे पूछते हैं कि एक कदम हम चले एक कदम आप चले, इसी सोच से समाज को बदला जा सकता है।

बलात्कार पीड़ित महिलाओं को जल्दी न्याय दिलाने के लिए वन स्टॉप रेप शेल्टर पर जनमत संग्रह किया जा रहा है। एक हफ्ते में हमे दस हजार से अधिक कॉल आ चुकी है। जिसकी मदद से राज्य सरकारों को एक छत के नीचे ही बलात्कार पीड़ित महिला को न्याय दिलाने की सिफारशि की जाएगी। महिला असुरक्षा को लेकर आमिर ने वर्ग भेद की बात पर कहा कि महिलाओं को दिए जाने वाले अधिकार और समानता की बात स्वीकार न कर पाने वालों की अधिकता के कारण ही अपराध बढ़ रहे हैं।

जबकि हमें अधिकारों में समानता लानी होगी। वहीं महिला अधिकारों पर बनने वाली फिल्मों के संदर्भ आमिर ने कहा कि महिला मुद्दों पर कहानी लिखने वाले लेखको की कमी है, कोई अच्छी कहानी मिली तो वह नशि्चित से महिला आधारित फिल्म बनाएगें। जबकि उन्होंने अपनी अब तक की सभी फिल्मों में अभिनेत्रियों की भूमिका शसक्त रखने की बात कही। बातचीत में दिखा गजनी असरआमिर मानते हैं कि उनकी यादद्दश्त कमजोर हो रही है यदि कोई दो प्रश्न एक साथ पूछता है तो वह पहला प्रश्न भूल जाते हैं, जबकि बाद वाले प्रश्न का ही जवाब दे पाते हैं।

इस पर उन्होंने स्वीकार किया कि उनकी याद्दाश्त कमजोर हो गई है। राजनीति के मामले में आमिर फिलहाल किसी भी पार्टी का समर्थन नहीं करते हालांकि उन्होंने जनवरी महीने में दिए गए अपने एक साक्षात्कार में कहा था कि वह आम आदमी पार्टी की विचारधारा से प्रभावित है, लेकिन शुक्रवार को उन्होंने कहा कि वह जल्दबाजी में किसी भी पार्टी को समर्थन नहीं देगें। आम आदमी पार्टी केवल एक साल पुरानी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समाज बदला, पर नजरिया बदलने से बनेगी बात