DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुमनाम चिट्ठी ने पुलिस को भरमाया

जज (एडीजे) सुभाषचंद्र प्रसाद की बेटी रानी अर्चना सिंह के मामले में मिली गुमनाम चिट्ठी ने पटना पुलिस को भरमा दिया। छानबीन के लिए बिजनौर गई पुलिस टीम को कोई सुराग नहीं मिला है। शनिवार को सिटी एस.पी. अनवर हुसैन ने बताया कि बिजनौर गई पुलिस टीम अभी नहीं लौटी है। वहां संबंधित थाने से लेकर अन्य जगहों तक छानबीन की गई लेकिन अब तक अर्चना के बार में कुछ भी पता नहीं चला है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक कुछ दिन पहले बिजनौर (उत्तर प्रदेश) की मुहर लगी एक चिट्ठी गांधी मैदान थानाध्यक्ष के नाम से पहुंची। पत्र खोल कर जब थानाध्यक्ष व अन्य अधिकारियों ने पढ़ा तो उसमें अर्चना के बिजनौर में देखे जाने की बात लिखी गई थी। पत्र भेजने वाले न तो अपना नाम लिखा था और न ही पता-ठिकाना। हालांकि स्थिति की गंभीरता को देखते हुए तत्काल मामले के आई.ओ. के साथ ही गांधी मैदान थाने के अन्य अधिकारियों की विशेष टीम का गठन कर वहां असलियत पता करने के लिए भेजा गया। इस मामले में अर्चना के पति और रलवे इंजीनियर राजीव कुमार सिंह (लालजी टोला, गांधी मैदान) को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।ड्ढr ड्ढr पत्रकार लूटा गयाड्ढr पटना (हि.प्र.)। कोतवाली थाना से चंद कदम दूर किदवईपुरी स्थित सिंडीकेट बैंक के पास सरशाम तीन अपराधियों ने पत्रकार चन्द्रशेखर को हथियार के बल पर लुटने का प्रयास किया। यही नहीं पत्रकार के विरोध करने पर बदमाशों ने फायर भी किया पर मिसफायर होने के चलते उनकी जान बच गई। हालांकि लुटेरों ने उनके मोटरसाइकिल को लूटने का कई बार प्रयास भी किया। इस दौरान बदमाशों ने उनपर पिस्तौल के बट से हमला भी किया जिससे उन्हें गंभीर चोट भी लगी है।ड्ढr घटना की सूचना मिलने के बाद कोतवाली थानाध्यक्ष मुंद्रिका प्रसाद ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन की। थानाध्यक्ष ने बताया कि पूछताछ के लिए दो लोगों को हिरासत में लिय गया है। चन्द्रशेखर ने बताया कि वे शाम लगभग 7 बजे स्टेशन से अपने कार्यालय जा रहे थे इसी दौरान सन्नाटे का फायदा उठाते हुए तीन लुटेरों ने उन्हें घेर लिया। पीड़ित ने स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी है।ड्ढr ड्ढr संकटमोचन बना गौरीचक ग्रिडड्ढr पटना (का.सं.)। राजधानी के लिए संपतचक गौरीचक पावरग्रिड संकटमोचन बना हुआ है। अकेले इससे फिलहाल शहर को लगभग 260 से 300 मेगावाट बिजली मिल रही है। पटना शहरी क्षेत्र की मांग लगभग 350 मेगावाट की है। बिहारशरीफ-फतुहा लाइन बंद रहने से बिहारशरीफ सुपरग्रिड से राजधानी को बिजली नहीं मिल रही है। फतुहा लाइन गत 3 जून से ही फतुहा के समीप एक साथ तीन टॉवर के ध्वस्त हो जाने से बंद पड़ी हुई है। फिलहाल खगौल, गायघाट, मीठापुर व फतुहा को संपतचक ग्रिड से बिजली की आपूर्ति हो रही है। जक्कनपुर को सिर्फ बिहारशरीफ -फतुहा 132 केवीए से बिजली मिल रही है। पावर ग्रिड कारपोरशन द्वारा पटना-गया हाइवे पर संपतचक प्रखंड के गौरीचक में हाल ही में 400 220 केवीए सबस्टेशन का निर्माण किया गया है। बिहार सब ट्रांसमिशन फेज -2 पार्ट-1 के तहत पिछले दिनों ही इससे फतुहा व खगौल ग्रिड को आपूर्ति शुरू की गयी। बिहारशरीफ-फतुहा लाइन के बंद होने के बाद से मीठापुर व गायघाट ग्रिड को भी संपतचक के दूसरे सोर्स से बिजली मिल रही है। खगौल को 0, मीठापुर को 70, गायघाट को 35 व फतुहा को 25 मेगावाट दी जाती है। अधिकारियों के मुताबिक गत महीने 132 केवी लाइन के एक टॉवर के ध्वस्त होने के बाद विद्युतबोर्ड के अनुरोध पर फतुहा से मीठापुर,गायघाट व जक्कनपुर ग्रिडों को पावर ग्रिड ने अपने गैंग की मदद से आपूर्ति बहाल करवायी। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक एक संचरण लाइन से क्षमता से अधिक बिजली लिये जाने के चलते पिछले दिनों परशानी उत्पन्न हो गयी थी।ड्ढr ड्ढr आईआईटी के छात्र सम्मानितड्ढr पटना (सं.सू.)। आईआईटी में सफलता प्राप्त करने वाले परमार क्लासेज के छात्रों को रोटरी पटना मिड टाउन द्वारा शनिवार को होटल चाणक्य में सम्मानित किया गया। इस मौके पर राहुल राज, विकास कुमार, रांन कुमार, अंकुर जेवारी, सौरव कुमार, टी सिंह, सीमांत उजन, अभिलाश राय एवं राम शंकर उपस्थित थे। रोटरी की तरफ से छात्रों को पुष्प गुच्छ व सर्टिफि केट प्रदान कर सम्मानित किया गया। रोटरी के अध्यक्ष राजेश गुप्ता व परमार ने कहा कि छात्रों के व्यक्ितत्व विकास के लिए यह आयोजित किया गया था। इस अवसर पर डा. पी.आर.आर.सिंह, डा. आर.एन सिंह सभी ने छात्रों की उज्वल भविष्य की कामाना की। धन्यवाद ज्ञापन क्लब के सचिव विजय प्रताप सिंह ने किया।ड्ढr ड्ढr साईं आनंद उत्सव का आयोजनड्ढr पटना (हि.प्र.)। आरा गार्डेन रोड में शनिवार को साईं ं आनंद उत्सव का आयोजन किया गया जिसमें दर्जनों साईं भक्त शामिल हुए। देर शाम से ही साईं भजन शुरू हुआ और देर रात तक जारी रहा। भक्त साईं भजन पर देर रात तक झूमते रहे। इस अवसर पर संत शिरोमणि गुरु कुमार आनंद रंजन ने कहा कि पूर विश्व का मालिक एक ही है। साईं बाबा ने संसार का उद्धार करने के लिए अलग-अलग रुप धारण किए। गुरु आनंद रंजन ने कहा कि सत् श्री साईं आध्यात्मिक मैनेजमेंट एण्ड नेचर क्योर आर्गेनाइजेशन के तत्वावधान में बिहार के जेलों में साईं जीवन धारा कार्यक्रम शुरू किया गया है। इसका उद्येश्य कैदियो ं को उसके दुष्करों को याद दिलाकर मुख्य धारा में शामिल करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर