DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अज्ञात डकार रहे राशन, पात्र दाने-दाने को मोहताज

बड़ाैत। लुहारी गांव में दो सस्ते गल्ले की दुकानों पर 198 अज्ञात लोग राशन डकार रहे हैं, जबकि पात्र लोगों तक राशन नहीं पहुंच रहा। इसके अलावा 11 राशनकार्ड धारकों को आज तक राशन नहीं मिला। दो ग्रामीणों की शिकायत पर हुई जांच में फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। लुहारी गांव में दो सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान है। इन दुकानों में राशन वितरण में धांधली का आरोप लगाते हुए गांव के ही सूरजमल व संजय ने तहसील दिवस में 27 दसिंबर वर्ष 2013 को इसकी शिकायत की थी।

एसडीएम ने इस मामले की जांच एडीओ पंचायत प्रेम शंकर द्वविेदी को सौंपी। एडीओ पंचायत ने गांव में जाकर मामले की जांच की तो कुछ चौकाने वाले तथ्य सामने आए। जांच में पता चला कि राशन कार्ड संख्या 17601 से लेकर 17799 तक 198 राशनकार्डो पर फर्जी तरीके से राशन का वितरण हो रहा है। इन राशनकार्डो में दर्ज नाम के व्यक्ति गांव में नहीं है। इसकी पुष्टि ग्राम प्रधान राजपाल से की गई। इसके अलावा के जगबीर, रणबीर, समेत 11 राशनकार्ड धारकों के राशनकार्ड पर राशन वितरण की प्रविष्टि अंकित नहीं थी।

उन्होंने बताया कि राशन डीलर ने उन्हें राशन का वितरण नहीं किया है। एडीओ पंचायत ने जांच करने के बाद राशन डीलर से संपर्क करने का प्रयास किया,लेकिन उससे संपर्क नहीं हो पाया। इसके बाद उन्होंने अपनी जांच रिपोर्ट एसडीएम के पास भेज दी। होगी सख्त कार्रवाईबड़ाैत। एसडीएम राजेन्द्र सिंह ने बताया कि जांच रिपोर्ट अभी तक उनके पास नहीं आई है। जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आरोपियों के खिलाफ होगी कार्रवाईबड़ाैत। जिला पूर्ति अधिकारी विजय प्रभा ने बताया कि जांच रिपोर्ट में क्या आया है।

इसकी जानकारी अभी तक उनके पास नहीं आई। अगर ऐसा हुआ है तो आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अज्ञात डकार रहे राशन, पात्र दाने-दाने को मोहताज