DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीडब्ल्यूडी का टाइमकीपर निकला 12 करोड़ का आसामी

पीडब्ल्यूडी का टाइमकीपर निकला 12 करोड़ का आसामी

पुलिस के लोकायुक्त दस्ते ने लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के कर्मचारी के ठिकाने पर शुक्रवार को छापा मारा और उसकी करीब 12 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति के खुलासे का दावा किया।

लोकायुक्त पुलिस के सूत्रों ने बताया कि इंदौर में पीडब्ल्यूडी में समयपाल (टाइमकीपर) के पद पर कार्यरत गुरुकृपाल सिंह सुजलाना के खिलाफ कथित भ्रष्टाचार से बेहिसाब दौलत बनाने की शिकायत मिली थी। इस शिकायत पर उसके तिलकनगर स्थित घर पर छापा मारा गया।

सूत्रों के मुताबिक लोकायुक्त पुलिस की अब तक की छानबीन के दौरान पहली नजर में पता चला है कि सुजलाना करीब 12 करोड़ रुपये के मूल्य वाली चल-अचल संपत्ति का मालिक है। उन्होंने बताया कि सुजलाना करीब 28 साल से सरकारी सेवा में है। इस समयपाल की संपत्ति उसकी आय के ज्ञात जरियों के लिहाज से कई गुना ज्यादा है। फिलहाल उसका मासिक वेतन 22 हजार रुपये है।

सूत्रों ने बताया कि लोकायुक्त पुलिस के छापे के दौरान खुलासा हुआ कि सुजलाना की अचल संपत्ति का मूल्य लगभग 10 करोड़ रुपये है। इसमें 12 भूखंड, चार मकान, चार फ्लैट, दो दुकानें और सात स्थानों पर कृषि भूमि शामिल हैं। वह दो स्पोटर्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) और एक बस का भी मालिक है।

उन्होंने बताया कि सुजलाना के तिलक नगर स्थित घर पर जब छापा मारा गया, तब वह इस ठिकाने में मौजूद था। उसके घर से साढ़े बारह लाख रुपये की नकदी और 27 हजार रुपये के जेवरात बरामद किये गये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीडब्ल्यूडी का टाइमकीपर निकला 12 करोड़ का आसामी