DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आप कार्यकर्ताओं पर दंगाई गतिविधि में संलिप्तता का आरोप

आप कार्यकर्ताओं पर दंगाई गतिविधि में संलिप्तता का आरोप

दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी (आप) के प्रदर्शनकारियों पर अपने कर्तव्य निर्वहन से उसे रोकने के लिये दंगाई गतिविधि और आपराधिक ताकत के इस्तेमाल का आरोप लगाया है। आप कार्यकर्ताओं ने यहां भाजपा मुख्यालय में बुधवार को प्रदर्शन किया था, जिसने हिंसक रूप ले लिया था।

पुलिस द्वारा सौंपी गयी रिपोर्ट के अनुसार संसद मार्ग थाने में सब इंसपेक्टर सुनील कुमार अपने सहयोगियों के साथ जब भाजपा मुख्यालय पहुंचे तो पाया कि वहां आप के करीब 50 कार्यकर्ता इकट्ठा थे।

रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने प्रदर्शनकारियों को वापस जाने के लिये मनाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ नारेबाजी करती रही और कुछ ही देर में आप प्रदर्शनकारियों की तादाद 150 से 200 के बीच हो गयी।

इसके बाद संसद मार्ग थाना के सहायक पुलिस आयुक्त अन्येष राय अतिरिक्त बल के साथ मौके पर पहुंचे, जिस दौरान प्रदर्शनकारियों ने दीवार और मुख्य प्रवेश द्वार पर चढ़ना और बाहर लगे होर्डिंग को फाड़ना शुरू कर दिया था।

रिपोर्ट में कहा गया है कि जनघोषणा प्रणाली पर वहां एकत्र होने को गैरकानूनी घोषित किया गया और उनसे जाने को कहा गया, लेकिन भीड़ की तरफ से दंगाई हरकत और पथराव जारी रहा। जब कोई विकल्प नहीं बचा तो पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिये पानी की बौछारें छोड़ीं।

रिपोर्ट के अनुसार भीड़ फिर उग्र हो गयी और उसने वाहनों के शीशे तोड़ दिये, सीटें फाड़ डालीं और ऊपर चढ़कर पानी के नल तोड़ डाले। इसके बाद अनियंत्रित भीड़ फिर से एकत्रित हुई और भाजपा मुख्यालय के मुख्य प्रवेश द्वार की ओर बढ़ने के बाद भीतर मौजूद कुछ ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर डंडे और पत्थर फेंकने शुरू कर दिये।

इस घटनाक्रम में बाहर खड़ी कारें भी क्षतिग्रस्त हो गयीं। नई दिल्ली जिला के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अतिरिक्त कुमुक आने पर भीड़ को नियंत्रित किया जा सका। रिपोर्ट के अनुसार झड़प के दौरान 4 पुलिसकर्मी, 16 आप कार्यकर्ता, 9 भाजपा कार्यकर्ता तथा एक मीडिया कर्मी घायल हो गया, जिन्हें राममनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया।

इस घटना के सिलसिले में 14 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ दंगा करने, पुलिसकर्मियों को उनके कर्तव्य निर्वहन से रोकने अथवा उन पर हमला करने तथा सम्पत्ति को क्षति पहुंचाने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गयी।

दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी ने कल भाजपा मुख्यालय के बाहर हिंसक प्रदर्शन को लेकर आदर्श आचार संहिता के कथित उल्लंघन के लिये आप को एक नोटिस जारी किया था। नई दिल्ली के उपायुक्त और जिला निर्वाचन अधिकारी अमेया अभयंकर ने आप से पूछा है कि निर्वाचन अधिकारियों से इजाजत लिये बिना प्रदर्शन करने तथा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिये क्यों ना उसके खिलाफ कार्रवाई की जाये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आप कार्यकर्ताओं पर दंगाई गतिविधि में संलिप्तता का आरोप