DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक सौहार्द नहीं बना पाई सरकार: भाजपा

मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक सौहार्द नहीं बना पाई सरकार: भाजपा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उप्र इकाई ने सूबे की समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मुजफ्फरनगर दंगे के छह माह बीत जाने के बाद भी 10 हजार से अधिक लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं, जो सरकार की विफलता को दर्शाता है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि छह माह बीत जाने के बाद भी सरकार न तो मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक सौहार्द स्थापित कर पाई है और न ही लोगों के भीतर सुरक्षा का भरोसा जगा पाई है।

पाठक ने कहा कि अभी भी 10 से 12 हजार लोग राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं। सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव लगातार यह दावे करते रहे हैं कि शिविरों में रहने वाले लोगों के लिए अखिलेश सरकार ने जितना किया है, उतना किसी भी सरकार ने नहीं किया है।

उन्होंने कहा कि मुलायम के इस दावे के बाद भी राहत शिविरों में हजारों लोग रह रहे हैं और सरकार उनके मन में घर वापसी का भरोसा नहीं जगा पाई है।

पाठक ने मांग की है कि सरकार राहत शिविरों में रह रहे लोगों की परेशानियों को समझे और उनमें सुरक्षा का भरोसा जगाए ताकि ये लोग अपने घरों को लौट सकें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक सौहार्द नहीं बना पाई सरकार: भाजपा