DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विलेज टूरिज्म पर सरकार का फोकस: अमृता

 ऋषिकेश। कार्यालय संवाददाता। पर्यटन मंत्री अमृता रावत ने कहा कि राज्य में विलेज टूरिज्म विकसित करने पर सरकार का फोकस रहेगा। धार्मिक स्थलों को रोप-वे से जोड़ना उनकी प्राथमिकता है। यमकेश्वर के मोहनचट्टी में आरण्यम रिजॉर्ट के समारोह में पहुंची पर्यटन मंत्री ने कहा कि पर्यटन विकास के लिए कई योजनाएं बनाई गई हैं। विलेज टूरिज्म को विकसित कर उत्तराखंडी व्यंजन परोसने के लिए व्यवसायियों को प्रेरित किया जा रहा है।

सांसद सतपाल महाराज ने कहा कि सरकार को टूरिज्म पर विशेष ध्यान देना चाहिए। वशि्व में पायी जाने वाली 4800 पक्षियों की प्रजातियों में से 890 भारत में पाई जाती है। यमकेश्वर की विधायक विजया बड़थ्वाल ने छोटी घाटियों में भी पर्यटन विकसित करने पर जोर दिया। इस अवसर पर रिजॉर्ट के निदेशक प्रणव कुकरेती, अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष नरेन्द्रजीत सिंह बिंद्रा, जगमोहन सकलानी, भगतराम कोठारी, राजू कुकरेती, मोहन डंग, विजय जैन,आराध्य,गीता कुकरेती, वत्सल शर्मा, वरूण शर्मा और मणिभूषण साहनी आदि उपस्थित थे।

इंसेट-पार्क के कारण नीलकंठ रोपवे में आ रही बाधाऋषिकेश। पर्यटन मंत्री अमृता रावत ने कहा कि राजाजी पार्क क्षेत्र के कारण नीलकंठ रोपवे निर्माण में बाधा आ रही है। उनके स्तर पर तीन बार प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया। लेकिन, पार्क के अंतर्गत होने से इसे रोक दिया गया है। उन्होंने बताया कि औली के खराब रोपवे की मरम्मत का कार्य कश्मीर की गुलमर्ग स्थित कंपनी को दिया गया है। यमुनोत्री, सुरकण्डा और चन्द्रबदनी में जल्द रोपवे निर्माण शुरू किया जायेगा।

फोटो-24 यमकेश्वर के मोहनचट्टी में कार्यक्रम का शुभारंभ करती पर्यटन मंत्री।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विलेज टूरिज्म पर सरकार का फोकस: अमृता