DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कामेश्वर बैठा पर झामुमो बोला, ये तो होना ही था

रांची। कामेश्वर बैठा के इस्तीफे पर झामुमो ने दो टूक कहा कि ये तो होना ही था। वे पिछले तीन चार महीनों से भाजपा और अन्य दलों के संपर्क में थे। महासचिव विनोद पांडेय ने बताया कि पार्टी इस मसले को गंभीरता से ली थी।

जिला कमेटी की रिपोर्ट को भी गंभीरता से लिया गया। लेकिन बैठा को सात मार्च तक का इंतजार करना चाहिए था। वे कार्यकारिणी की बैठक में खुद आकर बताते। कार्यकारिणी की बैठक में गिरिडीह और पलामू सीट पर चर्चा होनी थी। अब तक उनका इस्तीफा पार्टी को नहीं मिला है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कामेश्वर बैठा पर झामुमो बोला, ये तो होना ही था