DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहर में डूबने से तीन महिलाओं की मौत

बेलहर। निज प्रतिनिधि। बुधवार की देर शाम थाना क्षेत्र के दुधनियां गांव के पास बदुआ नहर में डूब जाने से उसी गांव की तीन महिलाओं की मौत हो गई। घर से पत्ता चुनने निकली महिलाएं जब देर शाम तक घर नहीं पहुंची तो उसके परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरु कर दी।

बदुआ नहर में डूबने की आशंका पर परिजनों के द्वारा सिंचाई विभाग को सूचना देकर पानी का बहाव कम करा कर शव की तलाशी शुरु की गई। इसी क्रम में तीनों महिलाओं के शव बढुआ नदी में ही मिले। इस घटना की जानकारी गुरूवार की सुवह होते ही बेलहर पुलिस घटना स्थल पर पहुंचते ही लाश को अपने कब्जे में लेते हुए उसे पोस्टमार्टम के लिए बांका सदर अस्पताल भेज दिया। इस मामले में पुलिस ने इसे स्वभाविक मौत बताते हुए युडी केस दर्ज किया है।

वहीं इस घटना से गांव में गम का माहौल है। वहीं इस संबंध मे चांदन प्रखंड क्षेत्र के उत्तरी कसवा वसीला पंचायत के पूर्व मुखिया सुनील पंडित व ग्रामीणों ने बताया कि तीनों महिलाएं जंगल में पत्ता चुनने के लिए घर से निकली थी। इसी दौरान शाम में वनरक्षी के द्वार खदेड़े जाने पर भागने के क्रम में तीनों महिलाओं की मौत नहर में गिर जाने से डूब कर हो गई। नहर में डूब कर हुई महिलाओं की मोत में नवल किशोर यादव की 35 बर्षीय पत्नी मंजू देवी, अजीत कुमार यादव की 19 वर्षीय पत्नी रीना देवी एवं सकल देव पंडित की पत्नी 20 वर्षीय शोभा देवी शामिल है।

पुलिस ने बताया कि मृतक मंजू देवी की 7 वर्षीय पुत्री रविता कुमारी ने अपने बयान में कहा है कि जिस वक्त यह हादशा हुआ वह अपनी मां के साथ थी। साथ ही उसने कहा कि शाम होने पर जंगल में वनरक्षी ने जंगल में लकड़ी चुनने वाली महिलाओं कोखदेड़ा शुरु कर दिया। इसी क्रम में भागने के दौरान उसकी मां सहित अन्य दो महिलाएं भी फिसल कर नहर में डूब गई। इस घटना की जानकारी उसने गांव के लोगों को दी।

इस संबंध में डीएसपी पियुष कांत ने बताया कि किसी के खदेडेम् जाने के दौरान भागने के क्रम में ही फिसल कर पहले एक महिला गिरी होगी और उसे बचाने में दोनों महिलाएं भी डूब र्गई। पुलिस ने युडी केस दर्ज कर तनों महिलाओं के शव को पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहर में डूबने से तीन महिलाओं की मौत