DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व कप्तानों और खिलाड़ियों ने स्मिथ की जमकर तारीफ की

पूर्व कप्तानों और खिलाड़ियों ने स्मिथ की जमकर तारीफ की

टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक मैचों में कप्तानी करने वाले ग्रेम स्मिथ की पूर्व कप्तानों और उनके साथी खिलाड़ियों ने जमकर तारीफ की। स्मिथ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को केपटाउन में तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

स्मिथ के पूर्ववर्ती कप्तान शॉन पोलॉक ने इस 33 वर्षीय क्रिकेटर की दृढ़ता की प्रशंसा की, जिसके कारण वह एक दशक से भी अधिक समय तक दक्षिण अफ्रीका की कप्तानी करने में सफल रहे। दक्षिण अफ्रीका के विश्व कप 2003 के पहले दौर में बाहर होने के बाद पोलॉक को कप्तानी छोड़ने के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने इस्तीफा देने से मना कर दिया। इसके बाद पोलॉक को हटाकर स्मिथ को टीम की कमान सौंप दी गयी जो तब केवल 22 वर्ष के थे।

पोलॉक ने उन घटनाओं के सदर्भ में बात की जबकि स्मिथ को लोगों का गुस्सा सहना पड़ा। उन्होंने बिजनेस डे से कहा कि लंबे समय तक दक्षिण अफ्रीका की कप्तानी करना मानसिक रूप से बहुत मुश्किल काम है। जब हम जीतते हैं तो यह हमारी टीम हो जाती है और जब हारते हैं तो यह ग्रेम स्मिथ की टीम हो जाती है। 

स्मिथ ने घोषणा कर दी थी कि वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ न्यूलैंड्स में तीसरे टेस्ट मैच के बाद संन्यास ले लेंगे। दक्षिण अफ्रीका बुधवार को यह मैच 245 रन से हार गया था।

पोलॉक ने कहा कि बल्लेबाजी की अप्रचलित शैली के बावजूद स्मिथ सफल रहे। उन्होंने कहा कि मेरी दो बेटियां हैं लेकिन यदि मेरा बेटा होता तो मैं नहीं चाहता कि वह ग्रेम स्मिथ जैसी बल्लेबाजी करे। उन्होंने कहा कि तकनीकी तौर पर वह सर्वश्रेष्ठ नहीं था लेकिन दृढ़ता और जज्बे के मामले में उसका जवाब नहीं था। वह बहुत प्रभावी था।

पूर्व सलामी बल्लेबाज जिमी कुक ने उन दिनों को याद किया जब उन्होंने किशोर स्मिथ के साथ काम किया था और आखिर में उनकी तकनीक बदलने में नाकाम रहे थे। उन्होंने द टाइम्स से कहा कि जब वह युवा था तो उसकी तकनीक ऐसी थी कि वह हर गेंद लेग साइड में हिट करना चाहता था। मैंने कई वर्षों तक लगातार प्रयास किये ताकि वह सीधे शॉट लगाए।

कुक ने कहा कि आखिर हम इस नतीजे पर पहुंचे कि हम कभी उसकी तकनीक नहीं बदल सकते हैं। इसलिए मैंने उसमें बहुत अधिक बदलाव लाने के प्रयास छोड़ दिये और उसकी खूबियों को अधिक निखारने पर ध्यान देने लगे जैसे कि गेंद पर उसकी निगाह, साहस और खेल के प्रति बहुत अच्छा नजरिया।

स्मिथ से कुछ दिन पहले टेस्ट मैचों से संन्यास लेने वाले ऑलराउंडर जाक कैलिस ने कहा कि उनका पूर्व कप्तान उन खिलाड़ियों में शामिल है जिन्हें वह सम्मान नहीं मिला जिसके वह वास्तव में हकदार थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्व कप्तानों और खिलाड़ियों ने स्मिथ की जमकर तारीफ की