DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपीएल स्थल पर फैसला अगले एक-दो दिनों में

आईपीएल स्थल पर फैसला अगले एक-दो दिनों में

देश में आम चुनावों के लिए तारीखें बुधवार को घोषित कर दी गई लेकिन भारीतय क्रिकेट कंट्रोल  बोर्ड (बीसीसीआई) ने आईपीएल-7 के आयोजन स्थल का फैसला अगले एक-दो दिनों के लिए टाल दिया।
  
चुनाव आयोग ने सात अप्रैल से 12 मई तक नौ चरणों में आमचुनाव कराने की घोषणा की है। आईपीएल संचालन परिषद को बुधवार को फैसला करना था कि टूर्नामेंट का सांतवां संस्करण विदेश में कहां कराया जाए लेकिन बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारी दिल्ली में स्थल और कार्यक्रम के लिए इकट्ठा तो हुए मगर कोई फैसला नहीं कर पाए।
   
आईपीएल के अध्यक्ष रंजीब बिस्वाल ने कहा कि इस संदर्भ में बुधवार को कोई फैसला नहीं किया जा सका। उन्होंने कहा कि आज हमने विदेशी स्थलों पर चर्चा की लेकिन हम कोई फैसला नहीं कर पाए हैं। हम एक दों दिन में विदेशी स्थल पर फैसला कर पायेंगे।
   
बिस्वाल ने हालांकि संकेत दिया कि आईपीएल सात के अधिकतर मैच भारत में खेले जाएंगे। चुनावी प्रक्रिया 16 मई को समाप्त हो जाएगी और उसके बाद मैच भारत में लाए जा सकते हैं।
 
बिस्वाल ने कहा कि चूंकि अब चुनावी तारीखें घोषित कर दी गई हैं इसलिए हम अधिकारी मैचों को भारत में कराने पर काम कर रहें हैं। यह इंडियन प्रीमियर लीग है और हमें ज्यादा से ज्यादा मैच भारत में कराने हैं।
   
बीसीसीआई की कार्य समिति ने बोर्ड अध्यक्ष एन श्रीनिवासन, सचिव संजय पटेल और उपाध्यक्ष राजीव शुकला को आईपीएल स्थलों पर फैसला लेने के लिए अधिकृत कर रखा है। ये अधिकारी आईपीएल के मुख्य संचालन अधिकारी सुंदर रमन के साथ दिल्ली में मौजूद थे।
  
समझा जाता है कि तीन विदेशी स्थलों दक्षिण अफ्रीका, संयुक्त अरब अमीरात और बंगलादेश में से दक्षिण अफ्रीका आयोजन स्थल की होड से लगभग बाहर हो चुका है। सूत्नों का कहना है कि क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका पूरा टूर्नामेंट ही कराने के लिए तैयार है लेकिन आईपीएल के परिप्रेक्ष्य में दक्षिण अफ्रीका में मैच कराने को लेकर कुछ बाधाएं हैं।
  
सूत्रों ने कहा कि चूंकि आईपीएल के टाइटल प्रायोजक पेप्सी की दक्षिण अफ्रीका के बाजार में ज्यादा उपस्थिति नहीं है इसलिए टूर्नामेंट दक्षिण अफ्रीका में कराने को लेकर पेप्सी में ज्यादा उत्साह नहीं होगा। यदि टूर्नामेंट भारत और किसी अन्य देश में बांटा जाता है तो टीमों के लिहाज से यह बेहतर होगा कि दूसरे देश की परिस्थितियां भारत जैसी हों। लेकिन दक्षिण अफ्रीका में भारत जैसी परिस्थितियां उपलब्ध नहीं होंगी।
 
इस बीच दो फ्रेंचाइजी ने पिछले कुछ दिनों में बीसीसीआई को पत्न लिखा है कि टूर्नामेंट के मैच यूएई में नहीं खेले जाने चाहिए। इन टीमों को गल्फ में मैच ले जाने में फिक्सिंग की आशंका है। यूएई को भारत के सट्टेबाजी माफिया का गढ़ माना जाता है।
   
हालांकि कुछ अन्य फ्रेंचाइजी का कहना है कि इन दोनों टीमों ने आईपीएल के लिए अपनी टीमों का चयन दक्षिण अफ्रीका की परिस्थितियों में नहीं कराना चाहती है। इन टीमों के पास स्तरीय स्पिनर नहीं है और यही कारण है कि इन्होंने ऐसी मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईपीएल स्थल पर फैसला अगले एक-दो दिनों में